मेगा क्रेडिट कैंपेन के तहत 1.22 लाख करोड़ रूपये बाँटने का लक्ष्य

मेगा क्रेडिट कैंपेन के तहत 1.22 लाख करोड़ रूपये बाँटने का लक्ष्य

हाल ही में भारत सरकार के द्वारा मेगा क्रडिट कैंपेन की शुरुआत की गई है और इसके तहत यह बात सामने आई है कि छोटे और सूक्ष्म कारोबारियों को ऋण दिए जाने का प्रावधान रखा गया है. इसके साथ ही यह बात भी सामने आई है कि इन कारोबारियों को 1.22 लाख करोड़ रूपये का ऋण दिया जाना है. वित्त मंत्री ने इस मामले में खुद यह जानकारी प्रदान की है. अरुण जेटली के द्वारा पंजाब नेशनल बैंक की एक शाखा से इस योजना की शुरुआत की गई और इस कार्यक्रम के अंतर्गत 37 लाख छोटे कारोबारियों को 24 हजार करोड़ रूपये भी बांटे गए है.

इसके तहत यह कहा गया है कि इस योजना का लाभ उन कर्मचारियों को दिया जाना है जिन्हे इस तरह की किसी भी सर्विस का लाभ अब तक नही मिल पाया है. साथ ही उन्होंने यह भी बताया है कि मुद्रा योजना के तहत छोटे उद्यमियों को उनके व्यवसाय और जरूरतों के हिसाब के कर्ज दिया जाना है. अरुण जेटली ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए यह भी कहा है कि हमारा यह लक्ष्य है कि हम मार्च 2016 तक छोटे कारोबारियों को बैंकिंग प्रणाली के द्वारा 1.22 लाख करोड रुपये का कर्ज दे सके ताकि वे सभी जल्द से जल्द किसी नए काम की शुरुआत कर सके.