वीडियो कांफ्रेंस के जरिए भूमि पूजन कार्यक्रम देखेंगे आडवाणी-जोशी, प्रबंध में जुटा प्रशासन

Aug 01 2020 04:23 PM
वीडियो कांफ्रेंस के जरिए भूमि पूजन कार्यक्रम देखेंगे आडवाणी-जोशी, प्रबंध में जुटा प्रशासन

नई दिल्ली: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त को भूमि पूजन समारोह रखा गया है. इसमें पीएम नरेंद्र मोदी मौजूद रहेंगे. वहीं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वयोवृद्ध नेता लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और अन्य बुजुर्ग नेताओं को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से भूमि पूजन समारोह दिखाया जाएगा.

प्रशासन इन नेताओं को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से भूमि पूजन दिखाने के प्रबंध में लगा हुआ है. सूत्रों ने बताया कि ऐसे 10 बड़े नामों की फेहरिस्त तैयार की गई है जो अयोध्या तो नहीं आ रहे, किन्तु वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए भूमि पूजन से जुड़ेंगे. सूत्रों ने बताया कि भूमि पूजन के दिन स्टेज पर पीएम मोदी को मिलाकर केवल पांच लोग मौजूद रहेंगे. मंच पर पीएम मोदी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) चीफ मोहन भागवत, नृत्य गोपाल दास मौजूद रहेंगे. इनके अतिरिक्त दो और संत रहेंगे. इनके अतिरिक्त कोई नेता या संत स्टेज पर नहीं रहेगा.

आपको बता दें कि पीएम मोदी के अतिरिक्त, अवधेशानंद सरस्वती, उमा भारती, साध्वी ऋतंभरा, रामभद्राचार्य, इकबाल अंसारी, RSS चीफ मोहन भागवत, यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह और विनय कटियार को भी भूमि पूजन में आने के लिए न्योता दिया गया है. भूमि पूजन कार्यक्रम में कोई केंद्रीय मंत्री मौजूद नहीं रहेगा. उम्र, स्वास्थ्य और कोरोना संकट के मद्देनज़र लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी के अयोध्या आने की उम्मीद पहले से ही नहीं थी.

इस महीने से आपकी सैलरी में होगी ज्यादा कटौती, आज से बदल गया ये नियम

राखी पर मोदी सरकार बेच रही सस्ता सोना, 'गोल्ड बांड' के लिए तय हुई ये कीमत

खेल मंत्रालय ने किया चयन समिति का गठन