ये तस्वीरें ले जाएगी आपको अपने बचपन की ओर

वो कहते है ना कि यदि घर में कोई बुजुर्ग व्यक्ति ना हो तो परिवार अधूरा सा होता है. यदि आपके भी दादा-दादी और नाना-नानी है तो आप दुनिया के सबसे खुशकिस्मत इंसान है. क्योकि ग्रैंड पेरेंट्स की कीमत उन बच्चो से पूछो जिनके पास दादा-दादी और नानी-नानी नहीं है. जो प्यार बच्चो को घर के बड़े बुजुर्गो से मिलता है तो किसी और से नहीं मिल सकता. वे लोग हमें अच्छी बातें सिखाते है और बुरी आदतों से दूर करने में मदद करते है. यदि किसी बच्चे ने बचपन में अपने घर के बुजुर्गो से दादी की कहानियां या नानी के किस्से-कहानियां नहीं सुनी तो शायद उसने अपने बचपन का सबसे अच्छा पल खो दिया.

आज हम आपको कुछ ऐसी ही तस्वीरों के जरिये आपके बचपन की यादो में ले जा रहे है-

बचपन में अगर आप सभी भी अपने ग्रैंड पेरेंट्स के साथ शाम के समय पर सैर करने गए होंगे तो इस तस्वीर को देखकर जरूर आपको भी वो पल याद आ गए होंगे.

दुनिया में चाहे कोई कितना भी अच्छा खाना क्यों ना पकाता हो लेकिन दादी और नानी के हाथो के खाने जितना टेस्टी खाना कोई नहीं बना सकता है.

हमारे बुजुर्ग हमें सबसे पहले परिवार के संस्कार सिखाते है. और किसी भी व्यक्ति के संस्कार उसके पारिवारिक माहौल को दर्शाते है.

वो टाइम तो आप सभी को याद ही होगा जब मम्मी-पापा खेलने जाने से मना कर देते थे तो दादी-दादी ही थे जो उनसे हमें खेलने जाने की परमिशन दिलाते थे.

हमारे ग्रैंड पेरेंट्स हमें हमेशा से ही एक जुट होकर और कभी परिवार से दूर ना होना सिखाया है.

बचपन का सबसे अच्छा और सुनहरा पल जब दादी हमें परियो की कहानिया सुनकर सुलाती थी.

 

एडिटिंग के साथ इस तरह छुपा रही हैं Bella अपनी न्यूड बॉडी

बीमारी के कारण 10 साल तक नहीं बैठ पाई ये औरत

बच्चे के क्यूट फोटो ने बचाई पिता की जान

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -