फ्रोजन फूड पैकेट की सतह पर मिला 'जिन्दा' कोरोना वायरस, वैज्ञानिकों की समस्या बढ़ी

फ्रोजन फूड पैकेट की सतह पर मिला 'जिन्दा' कोरोना वायरस, वैज्ञानिकों की समस्या बढ़ी

बीजिंग: चीन के स्वास्थ्य प्राधिकारण द्वारा क्विंगदाओ बंदरगाह शहर में इम्पोर्ट की गई फ्रोजन समुद्री मछली के पैकेट की बाहरी सतह पर जीवित कोरोना वायरस मिलने की बात कही गई है। ‘चाइनीज सेंटर फोर डिजीज कंट्रोल एडं प्रिवेंशन’ (CSC) ने एक बयान में जानकारी देते हुए बताया है कि दुनिया में यह पहला मौका है जब फ्रोजन खाद्य पैकेट की बाहरी सतह पर जीवित कोरोना वायरस मिला है।

क्विंगदाओ शहर में हाल ही में कोरोना संक्रमण के मामलों का एक ‘क्लस्टर’ सामने आया है। इसके बाद प्रशासन ने अपने सभी लगभग 1.1 करोड़ नागरिकों का कोरोना टेस्ट कराया, किन्तु कोई नया ऐसा ‘क्लस्टर’ नहीं पाया गया। जुलाई में चीन ने फ्रोजन झींगे के इम्पोर्ट पर अस्थायी रोक लगा दी थी क्योंकि पैकेटों और कंटेनर के अंदरूनी हिस्सों में यह जानलेवा वायरस पाया गया था।

CDC ने कहा कि उसे क्विंगदाओ में आयातित कॉड मछली के पैकेट के बाहर जिन्दा कोरोना वायरस मिला। सरकारी संवाद समिति शिन्हुआ ने CDC के बयान का हवाले देते हुए बताया है कि शहर में हाल ही संक्रमण सामने आने के बाद उसके स्रोत की जांच के दौरान यह खुलासा किया गया है। उससे यह साबित हो गया कि जिन्दा कोरोना वायरस से संक्रमित डिब्बों के संपर्क में आने से संक्रमण फैल सकता है। हालांकि बयान में यह नहीं बताया कि ये पैकेट किस देश से चीन पहुंचे थे।

अमेरिका के प्रेज के वकील रूडी गिउलानी की बेटी ने किया बिडेन का समर्थन

Remdesivir: डब्ल्यूएचओ को है दिशा-निर्देश जारी करने की आवश्यकता

संयुक्त राष्ट्र के अधिकारी ने कहा- "वरिष्ठ आंकड़े अफगानिस्तान में रहते हैं..."