MP में शराबबंदी होकर रहेगी: उमा भारती

भोपाल: मध्य प्रदेश की पूर्व सीएम उमा भारती शराब बंदी को लेकर फिर मुखर हुई हैं। उन्होंने कई ट्वीट कर आंदोलन के संकेत दिए हैं। उन्होंने बोला कि मध्य प्रदेश में शराबबंदी होकर ही रहेगी। उमा भारती ने ट्वीट के जरिए बोला कि हमारा शराबबंदी तथा नशाबंदी का अभियान सरकार के विरुद्ध नहीं है। शराब एवं नशे के विरुद्ध है। बीजेपी, कांग्रेस एवं सरकार में बैठे व्यक्तियों को समझा पाना भी एक मुश्किल काम है। इन सब वजहों से अभियान के शुरू से अभियान के पूर्णता तक मुझे खुद पूर्ण रूप से सजग एवं संलग्न रहना होगा, जिसके लिए मैं तैयार हूं। मेरी पहले चरण की चर्चा संघ के वरिष्ठ स्वयंसेवकों, प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा और सीएम शिवराज सिंह चौहान से हो चुकी है। अगला चरण 14 फरवरी के पश्चात् शुरू करूंगी। शराबबंदी एवं नशाबंदी मध्य प्रदेश में होकर रहेगी।

आपको बता दें कि उमा भारती कागि वक़्त से प्रदेश में शराबबंदी के लिए अपना पक्ष रख रही हैं। वे इसके लिए आंदोलन करने की चेतावनी भी दे चुकी हैं। 15 जनवरी 2022 तक उमा भारती ने शराबबंदी ना होने पर सड़क पर उतरकर आंदोलन करने की बात बोली थी। एक ओर उमा शराबबंदी को लेकर आवाज उठा रही हैं, तो दूसरी ओर सरकार के नए आदेश के तहत एमपी में 1 अप्रैल से नई शराब नीति लागू हो जाएगी, जिसके तहत शराब 20 प्रतिशत तक सस्ती होगी।

इसके साथ ही कांग्रेस ने शिवराज सरकार की नई शराब नीति का विरोध कांग्रेस ने आरम्भ कर दिया है। इंदौर में तो कांग्रेस ने पूर्व सीएम उमा भारती के गुमशुदा होने के पोस्टर भी लगा दिए हैं। कांग्रेस के अनुसार, शराब बंदी का ऐलान कर उमा भारती लापता हो गई हैं। कांग्रेस का कहना है कि उमा भारती सड़क पर उतरें तो कांग्रेस पार्टी भी उन्हें सपोर्ट करेगी। बृहस्पतिवार को कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया था कि कांग्रेस उमा भारती के लिए रथ तैयार कराएगी, जिससे वह प्रदेश में रथ यात्रा निकालें।

कमल हासन ने तमिलनाडु शहरी स्थानीय निकाय चुनावों के लिए उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की

एंट्रिक्स-देवास डील पर सुप्रीम कोर्ट ने दिया फैसला, कांग्रेस पर क्यों लगे फर्जीवाड़े के आरोप ?

कब्रिस्तान और मदरसों की बॉउंड्री बनवाएगी राजस्थान सरकार, CM गहलोत ने किए कई बड़े ऐलान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -