कभी तांगा चलाता था ये CEO, आज 97 साल की उम्र में वेतन है 25 करोड़

नई दिल्ली:  'असली मसाले सच-सच, एमडीएच।' शायद ही कोई होगा जिसने इस ऐड को नहीं देखा होगा। किन्तु इस ऐड में काम करने वाले बुजुर्ग व्यक्ति के बारे में कई ऐसी बातें हैं, जो शायद आप नहीं जानते होंगे। इस बुजुर्ग का नाम है धर्मपाल गुलाटी और वे 97 वर्ष के हैं। एमडीएच मसाले कंपनी के मालिक भी यही हैं। व्यापार और उद्योग जगत में श्रेष्ठ योगदान के चुने गए गुलाटी की कहानी बेहद दिलचस्प और प्रेरणा देने वाली है। 

धरमपाल गुलाटी महज कक्षा पांचवीं तक पढ़े हैं। भले ही उन्होंने किताबी शिक्षा ज्यादा ना ली हो, मगर कारोबार में बड़े-बड़े दिग्गज उनका लोहा मानते हैं। यूरोमॉनिटर के अनुसार, धरमपाल गुलाटी FMCG सेक्टर के सबसे अधिक वेतन वाले सीईओ हैं। सूत्रों ने बताया कि 2018 में उन्हें 25 करोड़ रुपये इन-हैंड सैलरी मिली. गुलाटी अपने वेतन का लगभग 90 फीसदी हिस्सा दान कर दते हैं। वह 20 स्कूल और 1 अस्पताल भी चला रहे हैं। 97 वर्षीय धरमपाल गुलाटी आज भी अपने उत्पादों का प्रमोशन खुद ही करते हैं। 

अक्सर आपने उन्हें टीवी पर अपने मसालों का एड करते हुए देखा होगा। उन्हें दुनिया का सबसे बुजुर्ग ऐड स्टार माना जाता है। उनका जन्म 27 मार्च, 1923 को सियालकोट (अविभाजित पाकिस्तान) में हुआ था। 1947 में देश के बंटवारे के बाद वह भारत आ गए। तब उनके पास सिर्फ 1,500 रुपये थे। भारत आकर उन्होंने परिवार के पालन-पोषण के लिए तांगा चलाना शुरू किया। फिर जल्द ही उनके परिवार के पास इतनी रकम जमा हो गई कि उन्होंने दिल्ली के करोल बाग स्थित अजमल खां रोड पर मसाले की एक दुकान खोल ली। इस दुकान से मसाले का कारोबार धीरे-धीरे इतना फैला कि आज भारत और दुबई में कुल मिलकर उनकी 18 फैक्ट्रियां हैं, जहाँ मसाला बनता है और ये पूरी दुनिया में निर्यात होता है। 

खूबसूरत की मिसाल है पैंगोंग झील, जानें रोचक तथ्य

जिस पेड़ के नीचे भगवान बुद्ध को हुई थी ज्ञान की प्राप्ति, दो बार नष्ट होने के बाद में हुआ ऐसा चमत्कार

लॉकडाउन में इस डॉगी से लोगों को सीखना चाहिए एक्सरसाइज

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -