सीधी जिले में एक और दुखद हादसा, तेंदुए ने 12 वर्ष की मासूम को बनाया अपना शिकार

Feb 22 2021 09:54 AM
सीधी जिले में एक और दुखद हादसा, तेंदुए ने 12 वर्ष की मासूम को बनाया अपना शिकार

सीधी: मध्यप्रदेश के सीधी जिले में एक दुखद घटना की खबर सामने आई है। दरअसल जिले में स्थित संजय बाघ अभयारण्य में तेंदुए के हमले में एक 12 वर्ष की लड़की की जान चली गई। जंहा इस बात का पता चला है कि मड़वास पुलिस चौकी प्रभारी केदार परौहा ने कहा कि मृतका की पहचान सरोज गोंड के रूप में की जा चुकी है। वह झपरी गांव की रहने वाली थी और शिव नारायण सिंह गोंड़ की बेटी थी।

जंहा इस बारें में उन्होंने कहा कि यह घटना शनिवार को संजय बाघ अभयारण्य के मड़वास के पास के जंगल में उस समय हुई, जब वह अपनी मां सहित अन्य महिलाओं के साथ खाना पकाने के लिए लकड़ी का इंतज़ाम करने गयी थी। परौहा ने कहा ‘‘जंगल में यह सभी महिलाएं थोड़े से फासले से लकड़ी बीन रही थीं। सरोज की मां उसके पास ही थी। अचानक तेंदुए ने सरोज के गले को जबड़े में दबोच लिया और तकरीबन 200 मीटर तक खींचते हुए ले गया।

जंहा इस बात का पता चला है कि वहां मौजूद महिलाओं ने शोर मचाकर उसे छुड़ाने की कोशिश भी की लेकिन जब तक तेंदुआ उसे छोड़कर भागा, तब तक सरोज की जान चली गई थी।’’ वहीं उन्होंने कहा कि इस संबंध में मड़वास पुलिस चौकी में केस दर्जकर लिया गया है और शव को पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंपा जा चुका है।

जालना में मंदिर के आस-पास से मिले 55 कोरोना पॉजिटिव, किया गया बंद

बापू की कामयाबी के पीछे था कस्तूरबा का सबसे बड़ा हाथ

आजादी के बाद भारत के पहले शिक्षा मंत्री और भारत रत्न से सम्मानित हुए थे मौलाना अबुल कलाम आज़ाद