आंखो के माध्यम से जानें शुभ अशुभ के संकेत

इंसान के जीवन में कई समस्याएं आती और जाती रहती हैं। जिनमें से कुछ समस्या का समाधान वह निकाल लेता है, लेकिन कुछ समस्याएं ऐसी होती हैं, जो उसका पीछा नहीं छोड़ती। शास्त्र की अगर मानें तो इंसान के जीवन में जो भी समस्या आती है, वह आने से पहले ही उसे अपने आने का संकेत दे देती है। आज हम आपसे कुछ इसी सिलसिले पर चर्चा करने वाले है। दरअसल यहां पर आज हम आपसे सामुद्रिक शास्त्र के माध्यम से मानव शरीर के अंगो में होने वाली हरकत से मिलने वाले भविष्य के संकेत को समझने के बारे में चर्चा करने वाले है। तो चलिए जातने है उन भविष्य के संकेतों के बारे में..

दाएं आंख की पलक और भौंहों का फड़कना – यदि पुरुषों की दाई आंख की ऊपरी पलक और भौंवें फड़कती है, तो माना जाता है उस व्यक्ति की सभी इच्छाएं पूरी हो जाती है और उस इंसान को नौकरी में तरक्की मिल सकती है। यदि ऐसा महिलाओं के साथ होता है तो यह अशुभ फलदायी माना जाता है। कहा जाता है ऐसा होने पर महिलाओं के काम बिगड़ने लगते हैं।

बाई आंख का फड़कना – माना जाता है, कि यदि महिलाओं की बाई (लेफ्ट) आंख की पलक और भौंहें फड़कना उनके लिए शुभ होता है। लेकिन यदि ऐसा पुरुषों के साथ होता है तो यह अशुभ माना जाता है। ऐसा होने पर पुरुषों की किसी पुराने दुश्मन से लड़ाई हो सकती है। इसके साथ ही किसी से दुश्मनी बढ़ सकती है।

दाई आंख का फड़कना – समुद्रशास्त्र के मुताबिक पुरुषों की दाई (राइट) आंख का फड़कना शुभ होता है। लेकिन महिलाएं के लिए बाई आंख का फड़कना अशुभ माना जाता है।

 

घर के आंगन में लगा तुलसी के पेड़ का सम्बन्ध होता है गृह से

सपने में हो जाए जहरीले सांप के दर्शन तो समझ लें की..

आप भी जानें, छींक कब शुभ होती है और कब अशुभ

धोखा मिलने से पहले कुछ ऐसे सपने आते हैं रात में

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -