दृष्टिहीनों के लिए आयी टेक्नोलॉजी से लैस छड़ी

नई दिल्ली : आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है, अब वैज्ञानिकों द्वारा एक ऐसा अविष्कार किया गया है जो दृष्टिहीन व्यक्तियों के लिए है. खास बात यह है की यह कोई ऐसी वैसी छड़ी नहीं है. यह टेक्नोलॉजी से लैस है. इसके माध्यम से रस्ते में आने वाली रुकावटों को पहले ही समझ जा सकता है. इसे माईस्मार्टकेन नाम दिया गया है. इसके लिए वैज्ञानिकों ने ने चलने-फिरने में टूल के तौर पर सदियों से इस्तेमाल की जा रही छड़ी में एक सस्ता एंबेडेड कंप्यूटर जोड़ दिया है.

ब्रिटेन में युनिवर्सिटी ऑफ मैनचेस्टर के अनुसंधानकर्ताओं ने एक ऐसी छड़ी का विकास किया है जिसमे लगा अल्ट्रासॉनिक बॉल वायरलैस दूर से रुकावट को भांप कर इसे एक ऑडियो सिग्नल में तब्दील कर देता है. इस ऑडियो को सुनाने के लिए व्याकरि हैडफ़ोन का उपयोग कर सकते है. माईस्मार्टकेन एक पब्लिक कार पार्किंग में लगे सेंसर की तरह काम करता है जैसे ही कोई ऑब्जेक्ट पास आये तो सौंठ जेनरेट हो जायेगा. यह छड़ी दृष्टिहीनों के जीवन ने बदलाव ला सकती है.

एचटीसी ने पेश किया 20 मेगापिक्सल का दमदार डिजायर 10 प्रो

सैमसंग के नए फ़ोन की जानकारी हुई लीक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -