शिप्रा से लेकर चम्बल तक मध्य प्रदेश की प्रमुख नदियों में विसर्जित होगी अटलजी की अस्थियां

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने आज पुरे देश के पार्टी अध्यक्षों को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के अस्थि कलश सौंपे. भारतीय जनता पार्टी देश भर में 100 नदियों में भारत रत्न अटलजी की अस्थियों को विसर्जित करने के लिए विभिन्न जिलों में 'अस्थि कलश यात्रा' आयोजित करेगी. आज मध्य प्रदेश में बीजेपी के पार्टी प्रदेेश अध्यक्ष व सांसद राकेश सिंह दिल्ली से विशेष विमान द्वारा अटलजी की अस्थियां लेकर भोपाल पहुंचेंगे.

अटल के निधन के छह दिन बाद जागे सल्लू मियां, ये खान तो अब तक सो रहा है

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भी अटलजी की कलश यात्रा निकाली जाएगी, स्टेट हैंगर से प्रदेश कार्यालय तक मार्ग में स्थान-स्थान पर श्रद्धासुमन अर्पित किए जायेंगे. कल 23 अगस्त से मध्य प्रदेश में इस कलश यात्रा की शुरआत की जाएगी. गुरुवार को प्रातः 8 बजे 8 विभिन्न कलशों को प्रदेश की प्रमुख नदियों में विसर्जित करने के लिए रवाना किया जाएगा.

आज से पूरे देश भर में शुरू होगी 'अटल अस्थि कलश यात्रा'

राज्य की सबसे बड़ी नदी नर्मदा में 25 अगस्त को राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और प्रदेश के पार्टी अध्यक्ष राकेश सिंह द्वारा एक कलश विसर्जित किया जाएगा. प्रदेश की जिन नदियों में पूर्व प्रधानमंत्री स्व.अटलजी के अस्थियों को विसर्जित किया जाएगा, उनमें नर्मदा, क्षिप्रा, ताप्ती, चम्बल, सोन, बेतवा, पार्वती, सिंध, पेंच और केन नदियां शामिल हैं. मध्यप्रदेश से अटलजी के गहरे रिश्ते को देखते हुए प्रदेश की दस प्रमुख नदियों में उनकी अस्थियों को विसर्जित किए जाने का निर्णय लिया गया है.

खबरें और भी:-​

वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुरुदास कामत का निधन

'अटल' के रंग में रंग जाएगा छत्तीसगढ़, कई जगहों के बदले जाएंगे नाम

अटलजी की प्रार्थना सभा में नम हुई राजनेताओं की आंखें

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -