राहुल गाँधी के ऊपर दिखाई दी लेजर लाइट, कांग्रेस ने बताया जान को खतरा

राहुल गाँधी के ऊपर दिखाई दी लेजर लाइट, कांग्रेस ने बताया जान को खतरा

नई दिल्ली: 2019 लोकसभा चुनाव में अमेठी सीट से चुनावी रण में उतरे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की सुरक्षा में चूक के आरोप का केंद्रीय गृह मंत्रालय ने उत्तर दिया है. गृह मंत्रालय ने अपने उत्तर में कहा है 'कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की सुरक्षा में कथित चूक से सम्बंधित हमें कोई पत्र प्राप्त नहीं हुआ है. मंत्रालय ने कहा है कि जैसे ही हमारे संज्ञान में यह मामला आया कि बुधवार को अमेठी में राहुल गांधी के ऊपर ग्रीन लाइट से टारगेट किया गया था, एसपीजी को वास्तविक स्थिति के बारे में पता लगाने को कहा गया है.'

एसपीजी के निदेशक ने गृह मंत्रालय को जानकारी देते हुए बताया है कि राहुल गांधी के ऊपर दिखाई दी ग्रीन लाइट मोबाइल फोन की थी, जो कि कांग्रेस के ही फोटोग्राफर का था. जो अमेठी के कलेक्ट्रेट के समीप राहुल गांधी की प्रेस वार्ता की वीडियोग्राफी कर रहे थे. राहुल गांधी के अमेठी से नामांकन दाखिल करने के दौरान उनके शरीर पर लेजर लाइट दिखाई देने को लेकर पार्टी ने गुरुवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र भेजकर आग्रह किया है कि सुरक्षा में चूक के बारे में जांच की जाए और पूरी सुरक्षा सुनिश्चित की जाए. 

पार्टी ने गृह मंत्री को लिखे गए पत्र में कहा है कि बुधवार को जब गांधी प्रेस वालों से बातचीत कर रहे थे उसी दौरान उनके शरीर पर कम से कम सात बार हरे रंग की लेजर लाइट नज़र आई थी. कांग्रेस ने पूर्व पीएम इंदिरा गांधी और राजीव गांधी की हत्याओं का हवाला देते हुए कहा है कि राहुल गांधी की जान को खतरा है और ऐसे में उनकी सुरक्षा को कड़ा किया जाना सुनिश्चित की जाए. सूत्रों के अनुसार पार्टी ने राहुल गांधी के ऊपर लेजर लाइट दिखाई देने से जुड़ा एक वीडियो भी मंत्रालय को सौंपा है.  

खबरें और भी:-

 

बंगाल में गरजे अमित शाह, कहा - सरकार बनते ही हटा देंगे धारा 370

VIDEO: बिहार की जनता ने बंद कर दी राजनाथ सिंह की बोलती, खुल गई सरकार की पोल

नोएडा: पुलिसकर्मियों को बांटे गए नमो फ़ूड के पैकेट, चुनाव आयोग में हड़कंप