ब्रिटेन ने भी फ्लाइट में लैपटॉप और टैबलेट किए बैन

लन्दन. ब्रिटेन भी अब अमेरिका के नक्शेकदम पर चल कर सख्ती की और बढ़ रहा है, ब्रिटेन ने टर्की, मिडिल ईस्ट और नार्थ अफ्रीका से आने वाली फ्लाइट्स में लैपटॉप और टैबलेट कम्प्यूटर्स को बैन कर दिया है. बता दे कि ब्रिटेन का इस बैन का फरमान अमेरिका की ओर से इसी तरह के प्रतिबंध की घोषणा करने के कुछ ही घंटो बाद आया.

मिस्र, जॉर्डन, लेबनान, सऊदी अरब, ट्यूनीशिया और टर्की से जो भी ब्रिटेन की यात्रा करेगे वह अब फ्लाइट में लैपटॉप या फिर टैबलेट कंप्यूटर का इस्तेमाल नहीं कर पाएगे. इस देशों से आ रहे यात्रियों को इन इलेक्ट्रानिक डिवाइसेस और बड़े फोन को अपने लगेज में ही रखना होगा. सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया कि हम जानते है इस नए नियमो से यात्रियों को निराशा होगी. किन्तु यह कदम चेतावनी के बाद से उठाया गया है जिसमे बताया गया था कि आतंकवादी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज में छिपे गए बम से पैसेंजर जेट को निशाना बना सकते है. इस चेतावनी के बाद ही अमेरिका ने आठ देशों के 10 एयरपोर्ट से अमेरिका कि ओर आने वाली फ्लाइट्स में इन्हें बैन कर दिया. ब्रिटेन का बैन केवल छह देशों के लिए ही है, जबकि अमेरिका की लिस्ट में कुवैत, मोरक्को, कतर और यूनाइटेड अरब एमीरेट्स है जो ब्रिटेन की फेहरिस्त में नहीं है.

ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा में ने कई दौर की मीटिंग बीते सप्ताह की है जो एविएशन सिक्योरिटी के मुद्दे से सम्बंधित थी. ब्रिटेन सरकार की और से जो निर्णय लिया गया है उसके हिसाब से छह ब्रिटिश एयरलाइंस पर पड़ेगा. बता दे की बैन में वह मोबाईल फोन भी शामिल है जो 16 सेंटीमीटर लम्बे, 9.3 सेंटीमीटर चौड़े और 1.5 सेंटीमीटर गहरे है.

ये भी पढ़े    

आठ मुस्लिम देशों के हवाई यात्रियों को विमान में लैपटॉप रखना हुआ प्रतिबन्धित

सुनील ग्रोवर के बाद अब विद्या बालन के साथ किया कपिल ने बुरा बर्ताव

फ्लाइट में हुई कपिल शर्मा और सुनील ग्रोवर के बीच घमासान मारपीट

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -