बिना सहमति नहीं होगा भूमि अधिग्रहण, सीएम ने किया ऐलान

इंदौर/ब्यूरो। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को हर घर तिरंगा अभियान तहत राजमोहल्ला से राजबाड़ा तक निकाली जाने वाली तिरंगा यात्रा में शामिल होने के लिये इंदौर पहुंचे। उनके इंदौर एयरपोर्ट आगमन पर एमपीआईडीसी द्वारा संचालित इंदौर-पीथमपुर इकोनॉमिक कॉरिडोर योजना में शामिल किये गये 16 ग्रामों के कृषक प्रतिनिधि उनसे मिलने पहुंचे। 

उन्होंने यहां मुख्यमंत्री चौहान को योजना हेतु भूमि अधिग्रहण के संबंध में ज्ञापन दिया। मुख्यमंत्री चौहान ने सभी कृषकों को आश्वासन दिया कि मध्यप्रदेश सरकार किसानों की सरकार है। यहां किसी भी किसान के साथ अन्याय नहीं होगा। किसानों का हित सर्वोपरि है। उन्होंने कहा कि किसानों की सहमति के पश्चात ही योजना के लिये भूमि अधिग्रहण किया जायेगा। उन्होंने उक्त संबंध में कलेक्टर मनीष सिंह को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये।

उल्लेखनीय है कि पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर, राज्यसभा सदस्य कविता पाटीदार, जीतू जिराती, मधु वर्मा द्वारा कृषकों के साथ कलेक्टर मनीष सिंह को आज ही उक्त संबंध में ज्ञापन दिया गया था। कलेक्टर मनीष सिंह द्वारा सभी किसानों एवं जनप्रतिनिधियों को आश्वासन दिया गया था कि बिना किसानों की सहमति के एक इंच की जमीन का टुकड़ा भी योजना में उपयोग नहीं किया जाएगा। इसके लिये उन्होंने 32 सदस्यों की कृषक समिति का गठन करने के भी आदेश जारी किये है।

15 अगस्त को है बहुला चतुर्थी व्रत, यहाँ जानिए पूजा मुहूर्त और महत्व

एक ही शख्स से थे देवरानी-जेठानी के अवैध रिश्ते, बदनामी के डर से उठा लिया ये खौफनाक कदम

कारम डैम के संबंध में लगातार संपर्क बनाए हुए हैं मुख्यमंत्री शिवराज

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -