एक समय बिहार में बोलती थी लालू यादव की तूती, लेकिन चारा घोटाला ले आया फर्श पर...

एक समय बिहार में बोलती थी लालू यादव की तूती, लेकिन चारा घोटाला ले आया फर्श पर...

पटना: लालू प्रसाद यादव का जन्म 11 जून 1948 को हुआ था, वे भारत के बिहार के राजनेता व राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के संस्थापक और प्रमुख हैं। वे 1990 से 1997 तक बिहार के सीएम रहे। इसके बाद में उन्हें 2004 से 2009 तक केंद्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार में रेल मन्त्री बनाया गया। जब लालू 15वीं लोक सभा में सारण (बिहार) से सांसद थे उन्हें बिहार के बहुचर्चित चारा घोटाला मामले में रांची स्थित केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की अदालत ने पांच वर्ष कैद की सजा सुनाई थी। 

इस सजा के लिए उन्हें बिरसा मुण्डा सेंटल जेल रांची में रखा गया था। सीबीआई के विशेष अदालत ने अपना फैसला सुरक्षित रखा जबकि उन पर कथित चारा घोटाले में भ्रष्टाचार का संगीन आरोप साबित हो चुका था। 3 अक्टूबर 2013 को अदालत ने उन्हें पाँच वर्ष की कैद और पच्चीस लाख रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई थी। दो महीने तक जेल में रहने के बाद 13 दिसम्बर को लालू प्रसाद को सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिल गई थी।

लालू प्रसाद यादव की 7 बेटियां और 2 बेटे हैं। लालू यादव पर भ्रष्टाचार के कई मामले दर्ज हैं। 1997 में चारा घोटाले में नाम आने के बाद उन्होंने बिहार के सीएम का पद अपनी पत्नी को सौंप कर जेल चले गए थे। दिसंबर में जमानत पर छूटने के बाद वर्ष 2018 में अदाकत ने अलग-अलग मामलों में उन्हे सजा सुनाई है। एक केस में उन्हे 14 साल की सजा भी सुनाई गई है। फिलहाल लालू बीमारी का हवाला देकर रांची के रिम्स अस्पताल में इलाज करवा रहे हैं।

राखी सावंत को जबरदस्ती किस कर चुके हैं मीका सिंह, विवादों से है गहरा नाता

एकता कपूर की जन्मदिन पार्टी में मस्ती करते नजर आए टीवी सितारें

Video: पति से पहले पिता को सोनम ने खिलाया केक, लोग जमकर कर रहे तारीफ़