नहीं रहे नेता जी सुभाष चंद्र बोस के साथी, पीएम मोदी बोले- भारतीय इतिहास पर अमिट छाप छोड़कर गए ललती राम...

May 09 2021 05:34 PM
नहीं रहे नेता जी सुभाष चंद्र बोस के साथी, पीएम मोदी बोले- भारतीय इतिहास पर अमिट छाप छोड़कर गए ललती राम...

स्वतंत्रता सेनानी सुभाष चंद्र बोस के साथी ललती राम का 98 साल की आयु में निधन हो गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह ने उन्हें याद किया है। नेताजी सुभाष चंद्र बोस के मित्र रहे ललती राम के निधन पर पीएम नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट में कहा कि उनके जैसे महान लोग भारतीय इतिहास में अपनी अमिट छाप छोड़ जाते हैं। 98 वर्ष के ललती राम जो कि आजाद हिंद फौज का भाग थे, उनके निधन पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत की स्वतंत्रता के संघर्ष में ललती राम का जो योगदान है उसे कभी भुलाया नहीं जा सकता। ललती राम कोरोना संक्रमित थे तथा पीजीआई रोहतक में उनका उपचार चल रहा था।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, ‘आजाद हिंद फौज का भाग रहे ललती राम के निधन की खबर प्राप्त हुई, बेहद दुख हुआ। भारत की स्वतंत्रता की लड़ाई में उनके साहस तथा योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा। मुझे उनके साथ हुई अपनी मुलाकात याद आती हैं। ‘गृह मंत्री अमित शाह ने भी ललती राम को याद किया। उन्होंने लिखा, ‘ललती राम जी को सदैव अपनी देशसेवा तथा समर्पण के लिए याद किया जाएगा। नेताजी सुभाष चंद्र बोस के साथ INA के एक मजबूत स्तंभ के तौर पर उन्होंने भारत की आजादी के लिए लड़ाई लड़ी। उनका जीवनसंघर्ष हमें सदैव प्रेरणा देता रहेगा। भगवान दिवंगत आत्मा को सद्गति प्रदान करें। ॐ शांति शांति।’

बता दे कि 98 वर्ष के ललती राम का रविवार प्रातः निधन हुआ था। उन्हें नेताजी सुभाष चंद्र का करीबी माना जाता था। वर्ष 2019 में उन्हें भारत सरकार ने सम्मानित किया था। यह सम्मान स्वतंत्रता के संघर्ष में निभाई गई उनकी भूमिका के लिए दिया गया था।

रिलीज हुआ राधे के चौथे गाने ‘जूम जूम’ का टीज़र, जबरदस्त अवतार में नजर आए दिशा-सलमान

सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर करने के कुछ घंटों बाद ही इस मशहूर अभिनेता का हुआ निधन, लिखा- जल्द जन्म लूंगा...

खुशखबरी! अब प्राइवेट अस्पतालों में भी मुफ्त में इलाज करा सकेंगे कोरोना मरीज, गहलोत सरकार ने लिया बड़ा फैसला