लखीमपुर हिंसा: आशीष मिश्रा के पास दर्जन भर लोगों का हलफनामा और अहम सबूत, पूछताछ जारी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में भड़की हिंसा के मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को मुख्य आरोपी बनाया गया है. पुलिस की क्राइम ब्रांच की तरफ से दी गई 11 बजे की डेडलाइन से लगभग 22 मिनट पहले 10.38 बजे ही आशीष मिश्रा क्राइम ब्रांच के कार्यालय पहुंचे. वहीं, पुलिस महकमे के उच्च अधिकारी और स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (SIT) की टीम भी पहले से ही क्राइम ब्रांच के ऑफिस पहुंच चुकी थी. आशीष मिश्रा से पूछताछ शुरू हो चुकी है.

SIT और क्राइम ब्रांच की टीम लगभग ढाई घंटे से आशीष मिश्रा से पूछताछ कर रही है. आशीष मिश्रा के साथ उनके वकील और अजय मिश्रा टेनी के प्रतिनिधि भी उपस्थित हैं. आशीष से मजिस्ट्रेट के समक्ष कलमबंद बयान दर्ज किया जा रहा है. आशीष अपने साथ दर्जन भर लोगों के हलफनामे भी साथ ले गए हैं, जिनमें ये कहा गया है कि वे दंगल में थे, घटनास्थल पर नहीं. आशीष अपने साथ इलेक्ट्रॉनिक एविडेंस भी लेकर क्राइम ब्रांच के ऑफिस पहुंचे हैं. 

आशीष की जांच दल के समक्ष पेशी को लेकर पुलिस लाइन में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. पुलिस ने आशीष मिश्रा की पेशी के मद्देनज़ार पुलिस लाइन को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. जगह-जगह बैरिकेड्स लगाए गए हैं. चप्पे-चप्पे पर पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है. 

क्राइम ब्रांच के सामने पेश हुए मंत्री के बेटे, CBI कर रही पूछताछ

तेज प्रताप यादव ने दिखाए बगावती तेवर, उठाया ये बड़ा कदम

पाकिस्तान के विदेश मंत्री और यूएस डिप्टी सेक्रेटरी ऑफ स्टेट ने अफगान स्थिति एवं द्विपक्षीय संबंधों पर किया विचार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -