आज है भ्रातृ द्वितीय, जानिए पूरा पंचांग

आज के समय में लोग पंचांग देखते हैं और अपने दिन की शुरुआत करते हैं। ऐसे में आज हम लेकर आए हैं आज का यानी 30 मार्च का पंचांग।

30 मार्च का पंचांग-

दिन: मंगलवार, चैत्र मास, कृष्ण पक्ष, द्वितीया तिथि।

आज का दिशाशूल: उत्तर।

आज का राहुकाल: दोपहर 03:00 बजे से 04:30 बजे तक।


आज का पर्व एवं त्योहार: भ्रातृ द्वितीया।

विक्रम संवत 2077 शके 1943 उत्तरायन, उत्तरगोल, वसंत ऋतु चैत्र मास कृष्ण पक्ष की द्वितीया 17 घंटे 28 मिनट तक, तत्पश्चात् तृतीया चित्रा नक्षत्र 12 घंटे 22 मिनट तक, तत्पश्चात् स्वाती नक्षत्र व्याघात योग 13 घंटे 54 मिनट तक, तत्पश्चात् हर्षण योग तुला में चंद्रमा।

सूर्योदय और सूर्यास्त

आज के दिन सूर्योदय प्रात:काल 06 बजकर 13 मिनट पर हुआ है, वहीं सूर्यास्त शाम को ठीक 06 बजकर 38 मिनट पर होगा।


आज का पर्व एवं त्योहार: भ्रातृ द्वितीया।

विक्रम संवत 2077 शके 1943 उत्तरायन, उत्तरगोल, वसंत ऋतु चैत्र मास कृष्ण पक्ष की द्वितीया 17 घंटे 28 मिनट तक, तत्पश्चात् तृतीया चित्रा नक्षत्र 12 घंटे 22 मिनट तक, तत्पश्चात् स्वाती नक्षत्र व्याघात योग 13 घंटे 54 मिनट तक, तत्पश्चात् हर्षण योग तुला में चंद्रमा।

अमृत काल: आज सुबह 06 बजकर 41 मिनट से सुबह 08 बजकर 06 मिनट तक। उसके पश्चात देर रात 01 बजकर 55 मिनट से 31 मार्च को तड़के 03 बजकर 20 मिनट तक।

4000 से भी अधिक गीत लिखकर अपने फैंस के दिलों में आज भी जिन्दा है आनंद बख्शी

अमेरिका के राष्ट्रपति ने नागरिकों की हत्या पर जाहिर की नाराज़गी

हिमाचल के चंबा में आग ने ढाया कहर, 4 की गई जान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -