कुमारस्‍वामी ने कहा, कर्नाटक में राज्‍यपाल ने केंद्र से मिलकर गुजराती बिजनेस किया

कुमारस्‍वामी ने कहा, कर्नाटक में राज्‍यपाल ने केंद्र से मिलकर गुजराती बिजनेस किया

कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला ने राज्य में चल रही राजनीतिक उठापटक में बीजेपी को सरकार बनाने का न्‍योता दिया है. इसपर जेडीएस ते नेता एचडी कुमारस्‍वामी ने कहा है कि राज्‍यपाल सिस्‍टम सही करें, गुजराती बिजनेस न करें. वहीं, उन्‍होंने सवाल किया कि येदियुरप्‍पा ने कहा था कि मैं शपथ लेने के 24 घंटे के भीतर किसानों का कर्ज माफ कर दूंगा, क्‍या अब वह ऐसा करेंगे? कुमारस्‍वामी ने कहा, 'हम इतनी आसानी से हार नहीं मानेंगे. येदियुरप्‍पा को बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन का नहीं 3 दिन का समय मिलना चाहिए. हम सब जानते हैं क्‍या हो रहा है. इसमें कोई शक नहीं कि राज्‍यपाल डबल गेम खेल रहे हैं. वो यहां बिजनेस कर रहे हैं. कर्नाटक के लोग इसकी वजह से नुकसान उठाएंगे. कोई शक नहीं कि इसमें केंद्र सरकार का भी हाथ है.'  


कुमारस्‍वामी ने कहा, 'हम अपनी रणनीति तैयार कर रहे हैं. हम इसे कानूनी तौर पर लड़ेंगे. अगर हमारे पास बहुमत है तो येदियुरप्‍पा अकेले शपथ क्‍यों ले रहे हैं. हम जानते हैं कि अगर हम कोर्ट गए तो फैसला क्‍या होगा. आईटी के लोग हमारे लोगों को परेशान कर रहे हैं. हमारे फोन टेप करने की इजाजत किसने दी है. हम लोग आतंकवादी नहीं हैं.'  

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के नतीजे मंगलवार को आ गए. इसके बाद कांग्रेस और जेडीएस ने हाथ मिला लिया जिसके बाद राजनीतिक समीकरण तेजी से बदलते दिख रहे हैं. बुधवार की शाम राज्‍यपाल वजुभाई वाला ने बीजेपी को सरकार बनाने का न्‍योता भेज दिया. अब येदियुरप्‍पा गुरुवार सुबह 9 बजे CM पद की शपथ लेंगे. येदियुरप्‍पा को 15 दिन में बहुमत साबित करना होगा. इससे पहले जेडीएस और कांग्रेस ने राज्यपाल को 117 विधायकों के समर्थन का पत्र सौंपा है. इसमें 78 कांग्रेस, 37 जेडीएस, एक बसपा और एक निर्दलीय विधायक के हस्ताक्षर हैं. कर्नाटक में 222 सीटों पर मतदान हुआ था, इस हिसाब से बहुमत के लिए 112 विधायकों का समर्थन ही चाहिए. 

 

 

सुप्रीम कोर्ट ने दिया कांग्रेस को झटका, येदियुरप्‍पा 9 बजे शपथ लेंगे

कर्नाटक : येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण समारोह में मोदी-शाह नहीं पहुंचेंगे, प्रमुख शहरों की सुरक्षा बढ़ी

बड़ी खबर : कर्नाटक भी होगा भगवामय, कल शपथ लेंगे येदियुरप्पा

 

क्रिकेट से जुडी ताजा खबर हासिल करने के लिए न्यूज़ ट्रैक को Facebook और Twitter पर फॉलो करे! क्रिकेट से जुडी ताजा खबरों के लिए डाउनलोड करें Hindi News App