अयोध्या मामले पर कृष्ण जन्मभूमि में शांति, न्यास ने कहा- अब हिन्दू-मुस्लिम के सारे विवाद ख़त्म

अयोध्या मामले पर कृष्ण जन्मभूमि में शांति, न्यास ने कहा- अब हिन्दू-मुस्लिम के सारे विवाद ख़त्म

मथुरा: अयोध्या के राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद मामले पर सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले का कृष्ण जन्मभूमि मथुरा में स्वागत हुआ और न्यास ने कहा है कि देश में अब हिन्दुओं और मुसलमानों के बीच सारे विवाद समाप्त हो गए हैं. अयोध्या फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए कृष्ण जन्मभूमि न्यास के सचिव कपिल शर्मा ने कहा है कि यह सबको ध्यान में रख कर लिया गया निर्णय है और सभी को इसे स्वीकार करना चाहिए.

कपिल शर्मा ने आगे कहा कि मथुरा एक शांत नगर है और यहां कभी कोई विवाद नहीं है. अब हिंदू और मुस्लिम एक साथ मिलकर देश को आगे लेकर जाएंगे. अब इस फैसले के बाद दोनों समुदायों के बीच कोई दरार बाकी नहीं रहनी चाहिए. अब किसी भी पुराने मुद्दों पर कोई विवाद नहीं होना चाहिए. दरअसल, कृष्ण जन्मभूमि न्यास के पास पूरी संपत्ति का मालिकाना हक है. दस्तावेजों में हमेशा से पूरी प्रॉपर्टी, जिसमें मंदिर के साथ सटा हुआ ईदगाह भी है, न्यास की ही है इसलिए यहां कोई विवाद नहीं है.

आपको बता दें कि शीर्ष अदालत के पांच जजों की पीठ ने शनिवार को रामलला विराजमान के पक्ष में फैसला सुनाते हुए राम मंदिर बनाने का रास्ता साफ किया और मुस्लिम पक्ष को भी मस्जिद के लिए अलग से पांच एकड़ जमीन अयोध्या में ही देने के लिए सरकार को आदेश दिया है.

महाराष्ट्र: भाजपा कोर कमेटी की बैठक ख़त्म, शाम तक हो सकता है सरकार बनाने पर फैसला

जब अयोध्या मामले पर फैसला सुना रही थी अदालत, तब इस काम में लगे थे अमित शाह, हुआ बड़ा खुलासा

करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन करने के दौरान इमरान खान ने पुछा, हमारा सिद्धू कहाँ है ? देखें वीडियो