रेलवे GM की बेटी के विवाह के लिए दिया गया था अफसरों को टारगेट

जबलपुर ​: इस खबर को सुनकर आप भी चौंक जाएंगे खबर के अनुसार पश्चिम मध्य रेलवे, जबलपुर के महाप्रबंधक (जीएम) की बेटी की शादी में 'उपहार' देने के लिए रेलवे में हर अधिकारी को 50 हजार रुपए का टारगेट दिया गया था। इस दौरान बड़े अफसरों ने इसको पूरा करने के लिए जी तोड़ मेहनत की, जितनी शायद वे रेलवे का राजस्व बढ़ाने के लिए भी नहीं करते होंगे। इस बात का खुलासा करीब 10 मिनट की ऑडियो रिकॉर्डिंग में हुआ है। इसे रेलवे अस्पताल के निवर्तमान सीएमएस डॉ. अनिल गुप्ता ने फरवरी 2015 में तब रिकॉर्ड किया, जब अफसर होने के नाते उन पर भी 50 हजार रुपए देने के लिए डीआरएम अर्चना जोशी ने भारी दबाव बनाया था। 

इस दौरान दोनों के बीच कई बार तीखी बातें तक हुईं। जब डॉ. गुप्ता जब यह राशि देने में असमर्थता जताते हैं तो डीआरएम उन्हें उनकी तनख्वाह में से पैसा देने को कहती हैं। डीआरएम जोशी मंगलवार को ही रिलीव हुई हैं। वहीं, उनके कार्यकाल के अंतिम दिन सोमवार को डॉ. गुप्ता का भी जबलपुर तबादला हो गया। अलबत्ता, हार्ट में तकलीफ होने से डॉ. गुप्ता तलवंडी के निजी हॉस्पिटल में एडमिट हैं। कार्डियोलॉजिस्ट ने उन्हें ऑब्जर्वेशन में रखा है। उन्होंने जीएम को एसएमएस भेज पूरे मामले से अवगत कराया है। इस तरह डॉ. अनिल गुप्ता ने इस घटना को बता कर रेलवे में हड़कंप मचा दिया है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -