कोरिया पेशेवर फुटबॉल लीग का मैच बिना दर्शकों के हुआ शुरू

दक्षिण कोरिया में एक फुटबॉल मैच के दौरान दर्शकों की खाली स्थान भरने के लिए दर्शक सीटों पर संभोग डॉल बैठाने को लेकर वहां के एक क्लब पर जुर्माना लगाया गया है. दक्षिण कोरिया की के लीग ने बुधवार को बोला कि उसकी अनुशासन समिति ने एफसी सियोल पर 10 करोड़ वोन (81,454 डॉलर) का जुर्माना लगाया है, क्योंकि क्लब ने रविवार के मैच में दर्शक सीटों पर पुतले बैठाने के बजाय सेक्स डॉल बैठा दी थीं.

कोरोना के कारण संसार में कई स्थान फुटबॉल मुकाबले प्रारम्भ हुए हैं, लेकिन दर्शकों का प्रवेश प्रतिबंधित है. कोरोना वायरस महामारी की वजह से लंबे समय तक बंद रहने के बाद आखिरकार कोरिया पेशेवर फुटबॉल लीग (के लीग) के मैच बिना दर्शकों के फिर से प्रारम्भ हुए हैं. जंहा इस बारें में उन्होंने एक बयान में बोला कि क्लब की इस हरकत से महिला प्रशंसकों व परिवारों की भावनाएं आहत हुई हैं. इस तरह की हरकत को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता व आगे इस तरह की घटना को रोकने लिए क्लब पर जुर्माना लगाया जाता है. क्लब ने इस हरकत के लिए सोमवार को माफी मांग ली थी, लेकिन बोला था कि उसे पता नहीं था कि उसने जो पुतले लगाए हैं वे संभोग डॉल हैं.

एफसी सियोल ने इंस्टाग्राम पर एक बयान में कहा, 'हम अपने फैंस से माफी मांगते हैं. हमें बेहद खेद है. हमारा इरादा इस विषम परिस्थितियों में दिल हल्का करने के लिए कुछ करने का था. हम इस बात पर पूरा विचार करेंगे कि ऐसी चीजें दोबारा नहीं होने देना सुनिश्चित करने के लिए हमें क्या करने की आवश्यकता है.' बता दें कि 17 मई को हुए मैच के दौरान क्लब ने अपने घरेलू मैदान की दर्शक दीर्घाओं को मानवीय पुतलों से भरकर समर्थकों की भारी भीड़ होने का अहसास अपने खिलाड़ियों को देने की प्रयास की. लेकिन यह पाया गया कि इनमें से कई पुतले वास्तव में संभोग डॉल्स हैं. इनमें से 30 डॉल्स स्टेडियम में थे, जिसमें से 28 महिला व दो पुरुष पुतले थे.

माही ने किया दंग कर देने वाला खुलासा

विजय अमृतराज का बड़ा बयान- 'कोरोना महामारी के कारण 'बिग थ्री' नडाल...'

अंजुम मुदगिल का बड़ा बयान, कहा- 'कोई डर नहीं, एथलीट फिर से अच्छी ट्रेनिंग करेंगे'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -