अंधविश्वास: युवती का करते थे गर्म सलाखों से इलाज, गर्म तेल उड़ेल दिया

कोरबा। कोरबा में अंधविश्वास का एक ऐसा मामला आया है जिसमें एक मंदबुद्धि युवती को तरह तरह की परेशानियां दी गईं। हालात ये थे कि मंदबुद्धि युवती को उपचार देने और उसे ठीक करने के नाम पर गर्म सलाखों से दाग दिया गया और उसके विसर पर गर्म तेल उड़ेल दिया। जब लड़की की हालत बिगड़ गई तो उसे चिकित्सालय ले जाया गया। मिली जानकारी के अनुसार सुंदर सिंह उईके पिता झड़ीराम उईके 50 वर्ष की पुत्री उर्मिला उईके 21 वषर्् का स्वास्थ्य खराब था।

बहुत इलाज करवाने के बाद भी इन्हें आराम नहीं मिला ऐसे में ये लोग इसे कोरबा में बैगा के पास लेकर आए। बैगा कन्हैयालाल गोंड ने उसके साथ झाड़फूंक करवाना प्रारंभ कर दिया। बैगा द्वारा परिजन को कहा गया कि उर्मिला को दागने की जरूरत बताई गई। बताया गया कि उसके शरीर में बुरी आत्मा ने प्रवेश कर लिया है।

गर्म सलाखों से दागे जाने और तरह तरह की यातना देने के कारण उर्मिला का स्वास्थ्य खराब रहने लगा। ऐसे में कटघोरा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इस लड़की को ले जाया गया और उपचार के बाद उसे डिस्चार्ज कर दिया गया। इस मामले को लेकर पुलिस ने कटघोरा थाने में बैगा के विरूद्ध प्रकरण दर्ज कर लिया।

डेरा सच्चा सौदा के दो लोगों की हत्या, उपजा तनाव

गुस्से में आकर कर कैब ड्राइवर ने लिव-इन पार्टनर की कर दी हत्या

बच्चों को वॉशिंग मशीन में देख उड़े मां के होश

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -