बंगाल में संदिग्ध शवों को लेकर हंगामा, अब कोलकाता मेयर ने दी सफाई

कोलकाता: पश्चिम बंगाल का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें दावा किया जा रहा है कि कोलकाता नगर निगम द्वारा कई शवों को गारिया श्मशान में ले जाया गया था. वीडियो में दावा किया जा रहा है कि शवों को इस प्रकार ले जाने का कुछ लोगों ने विरोध किया. अब कोलकाता नगर निगम के महापौर ने सफाई दी है कि वो शव कोरोना संक्रमित मरीजों के नहीं थे.

इस पूरे मामले को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं. वहीं पश्चिम बंगाल के गवर्नर जगदीप धनखड़ ने भी ट्वीट कर सवाल उठाया है. वायरल वीडियो के सामने आने के बाद बंगाल के गवर्नर ने ममता सरकार से स्थिति स्पष्ट करने के लिए कहा है. गवर्नर के ट्वीट पर गृह सचिव अलपन बंदोपाध्याय ने दो घंटे के अंदर जवाब दिया. गृह सचिव के ट्वीट के बाद राज्यपाल ने वापस ट्वीट किया. दिलचस्प बात यह है कि यह पहली बार नहीं है कि गवर्नर धनखड़ ने पश्चिम बंगाल सरकार से जवाब मांगा है.

बहरहाल, इलाके के लोगों ने 10 जून की घटना के सम्बन्ध में बताया. उस इलाके में रहने वाले किरण मलिक ने कहा कि, "मैंने अपने जीवन में अभी तक ऐसा कुछ नहीं देखा था. हम आस-पास रहते हैं. कई लाशें क्षत-विक्षत हो गई थी. तक़रीबन 13 शव थे और एक हुक की सहायता से उन्हें डंप किया गया. उन्होंने शवों को वैन से बाहर निकाल दिया था, किन्तु इलाके के लोग एकत्रित हो गए और यह सब देख वे शवों को वापस ले गए. बहुत बदबू आ रही थी. हम फिर ऐसा नहीं होने देंगे."

ऐतिहासिक स्तर पर पहुंचे सोने के दाम, चांदी में भी आई मजबूती

कोरोना संकट में इस बैंक पर RBI ने गिराई गाज, उभोक्ताओं के पैसा निकालने पर लगी रोक

टीडीपी नेता अत्चन्नाडू की मुश्किले बढ़ी, इस वजह से पुलिस ने किया गिरफ्तार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -