जानिए कौन हैं 27 वर्षीय सना रामचंद ? जो बनीं पाकिस्तान की पहली महिला हिंदू अफसर

इस्लामाबाद: पाक के इतिहास में पहली बार कोई हिंदू लड़की यहां की सबसे कठिन परीक्षा को पास करने में कामयाब हो गई है. 27 वर्षीय डॉक्टर सना रामचंद गुलवानी ने सेंट्रल सुपीरियर सर्विसेस (CSS) की प्रतियोगी परीक्षा को मई में ही क्रैक कर ली थी, लेकिन पूरे पांच माह के बाद बीते सोमवार यानी 20 सितंबर 2021 को उनके अपॉइंटमेंट पर मुहर लग गई है.

पाक में यह एग्जाम सबसे मुश्किल कहा जाता है. जिसके द्वारा ही वहां प्रशासनिक सेवाओं यानी एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेस में नियुक्तियां की जाती है. इसे आप भारत के सिविल सर्विसेस एग्जाम की तरह भी बोल सकते है, इस परीक्षा को यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन आयोजित करता है. एग्जाम क्लियर करने के उपरांत डॉ. सना ने खुशी जाहिर करते हुए बोला था-‘वाहे गुरु जी का खालसा वाहे गुरु जी की फतेह.’ अल्लाह के फजल से मैंने CSS 2020 की परीक्षा को क्रेक कर लिया.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार CSS एग्जाम को बेहद कठिन माना जाता है. इसमें इस वर्ष कुल 2% कैंडिडेट्स ही कामयाबी प्राप्त कर पाए हैं. 27 वर्षीय डॉक्टर सना रामचंद गुलवानी ने इसे पहले अटैम्प्ट में ही क्रैक कर दिया था. बता दें कि सना मूल रूप से शिकारपुर की निवासी हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, सना ने सिंध प्रांत की रूरल सीट से इस परीक्षा में भाग लिया था. यह सीट पाकिस्तान एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेस के तहत आती है.

स्पेन में 50 साल बाद भूकंप के झटकों से फटा ज्वालामुखी, तस्वीरों में देखें तबाही का भयावह मंजर

इजराइली पीएम बैनेट से बात करते हुए सो गए थे जो बाइडेन ? नेतन्याहू ने ऐसे ली चुटकी

जस्टिन ट्रूडो की पार्टी को चुनाव में इतनी सीटों की बढ़त से मिली जीत, लेकिन बहुमत से अब भी दूर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -