जानिए कैसे हुई थी अंतरराष्ट्रीय नागरिक विमानन दिवस की शुरुआत

आज यानी 7 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय नागरिक विमानन दिवस बनाया जाता है। विश्वभर में सामाजिक, आर्थिक विकास के लिए नागरिक उड्डयन के महत्व को उजागर करने के उद्देश्य से 7 दिसंबर 2013 को मनाया गया।

आपकी जानकारी के लिए बता दे​ कि अंतरराष्ट्रीय नागर विमानन दिवस वायु परिवहन की सुरक्षा और दक्षता को बढ़ावा देने और हवाई परिवहन में अंतरराष्ट्रीय नागर विमानन संगठन की भूमिका के बारे में जागरूकता पैदा करना।अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (आईसीएओ) विमानन सुरक्षा के लिए अंतरराष्ट्रीय मानकों के विकास के लिए जिम्मेदार संयुक्त राष्ट्र संघ का एक भाग है। अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन दिवस प्रतिवर्ष 7 दिसंबर को मनाया जाता है। वर्ष 1944 में शिकागो में इसी दिन अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संधि पर हस्ताक्षर किए गए थे।

अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन से संबंधित तथ्य

1. अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन को नागरिक उड्डयन मामलों में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग और एकरूपता सुरक्षित करने के लिए 7 दिसंबर, 1944 को स्थापित किया गया था।

2. इस दिवस को मनाने के पीछे सामाजिक और आर्थिक विकास में अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन के महत्व के वैश्विक जागरूकता उत्पन्न करने और सुदृढ़ करना है, साथ ही  अंतरराष्ट्रीय हवाई परिवहन की सुरक्षा, दक्षता और नियमितता को बढ़ावा देने में भी इसकी भूमिका है।

3.1996 में संयुक्त राष्ट्र महासभा के एक आईसीएओ पहल के अनुसार और कनाडा सरकार की सहायता से, अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन दिवस के रूप में 7 दिसंबर की घोषणा की।

4. अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन विश्व मौसम विज्ञान संगठन, अंतर्राष्ट्रीय दूरसंचार संघ, यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन, विश्व स्वास्थ्य संगठन और अंतर्राष्ट्रीय समुद्री संगठन सहित अन्य संयुक्त राष्ट्र के सदस्यों के साथ मिलकर काम करता है।

चीन के पूर्व राष्ट्रपति जियांग जेमिन का हुआ निधन

सावधान हो जाएं इंसान! कई हजार साल बाद मिला सबसे खतरनाक Zombie Virus

फीफा वर्ल्ड कप को लेकर हुआ ये हैरान कर देने वाला खुलासा

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -