केरल इन्फ्रास्ट्रक्चर एंड टेक्नोलॉजी फॉर एजुकेशन ने शुरू किया सॉफ्टवेयर आधारित ऑपरेटिंग सिस्टम

By Emmanual Massey
Feb 22 2021 10:44 AM
केरल इन्फ्रास्ट्रक्चर एंड टेक्नोलॉजी फॉर एजुकेशन ने शुरू किया सॉफ्टवेयर आधारित ऑपरेटिंग सिस्टम

केरल इन्फ्रास्ट्रक्चर एंड टेक्नोलॉजी फॉर एजुकेशन (KITE) ने विश्व मातृभाषा दिवस पर एक मुफ्त सॉफ्टवेयर ऑपरेटिंग सिस्टम सूट K'ITE GNU-Linux लाइट लॉन्च किया है। यह स्कूलों में तैनात मुफ्त सॉफ्टवेयर का एक अद्यतन संस्करण है। इसका उपयोग सरकारी विद्याश्री लैपटॉप पर भी किया जाएगा। एक ही ऑपरेटिंग सिस्टम (OS) सूट में लाखों छात्र लैपटॉप होंगे जो राज्य सरकार की विद्याश्री परियोजना के हिस्से के रूप में प्रदान किए जा रहे हैं। 

पूरी तरह से एक उबंटू मुक्त सॉफ्टवेयर प्लेटफॉर्म पर आधारित है, ओएस का नया संस्करण कार्यालय पैकेज, भाषा इनपुट उपकरण, डेटाबेस एप्लिकेशन से लेकर डीटीपी- ग्राफिक्स इमेज एडिटिंग सॉफ्टवेयर और इतने पर सॉफ्टवेयर का एक गुच्छा पहले से भरा हुआ है। ऑपरेटिंग सिस्टम में विभिन्न प्रकार की शैक्षिक और उपयोगिता आधारित सॉफ्टवेयर की उपलब्धता छात्रों के लिए नहीं बल्कि DTP केंद्रों, कॉमन सर्विस सेंटर (CSC), सॉफ्टवेयर डेवलपर्स, कॉलेज के छात्रों और आम जनता के लिए उपयोगी है क्योंकि यह स्वतंत्र रूप से डाउनलोड किया जा सकता है और हो सकता है बिना किसी प्रतिबंध के साझा किया गया। 

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रशंसित शैक्षिक सॉफ्टवेयर जैसे कि जियारत पीएचई और जीकॉम्रिस के अलावा, ओएससिटालसो में जी-इमेज रीडर जैसे कई उपयोगिता पैकेज हैं जो छवि को पाठ रूपांतरण प्रदान करते हैं। इसके अलावा, मलयालम कम्प्यूटिंग को बढ़ावा देने के लिए, मलयालम यूनिकोड फ़ॉन्ट्स का एक विशाल संग्रह और एक समर्पित अंग्रेजी-मलयालम शब्दकोश भी लाइट संस्करण में शामिल है। KITE GNU LINUX LITE-2020 को वेबसाइट www.kite.kerala.gov.in से स्वतंत्र रूप से डाउनलोड किया जा सकता है।

श्रीनगर रेलवे स्टेशन के पास IED मिलने से हड़कंप, 11 माह बाद आज से शुरू हो रही ट्रेन सेवा

थूक लगाकर तंदूरी रोटी सेंकने वाला सुहैल गिरफ्तार, वीडियो वायरल होने के बाद लिया गया एक्शन

मानस नेशनल पार्क में इंटरएक्टिव सत्र में वन्यजीव अपराध को लेकर की जाएगी चर्चा