गिरोह के सदस्यों को मिलती है 10 से 15 हजार सैलरी

Jan 04 2016 01:09 PM
गिरोह के सदस्यों को मिलती है 10 से 15 हजार सैलरी

पटना : कुछ समय पहले यह खबर सामने आई थी कि दरभंगा क्षेत्र में रंगदारी का भुगतान नहीं करने के कारण एक गिरोह के द्वारा दो इंजीनियर्स की हत्या कर दी गई थी. मामले में यह बताया जा रहा है कि जिस गिरोह (संतोष और मुकेश गिरोह) ने इस हत्या को अंजाम दिया है वह बहुत बड़े पैमाने पर काम करता है. जबकि साथ ही यह बात भी सामने आई है कि इस गिरोह के सदस्यों को बतौर सैलरी के तौर पर 10 से लेकर 15 हजार रुपए प्रतिमाह दिए जाते है. इस बारे में खुद एसओटी का नेतृत्व कर रहे एसटीएफ एसपी शिवदीप लांडे ने जानकारी दी है.

लांडे ने इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए यह भी कहा है कि अभी तक हमारे द्वारा सी गिरोह के करीब 9 सस्यों को गिरफ्तार भी किया जा चूका है और साथ ही अन्य सदस्यों की तलाशी भी की जा रही है. उन्होंने अधिक जनकरी देते हुए यह भी बताया है कि इस गिरोह को तोडना बहुत ही जरुरी है लेकिन फ़िलहाल कुछ एक्टिव शूटर्स की गिरफ्तारी बहुत ही जरुरी है.

जानकारी में ही यह बात भी सामने आई है कि इस गिरोह में नए सदस्यों की संख्या अधिक होने के कारण उन्हें ढूंढने में काफी दिक़्क़तों का सामना करना पड़ रहा है. इसके साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि गिरोह के अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी को लेकर हम सभी उचित कदम उठा रहे है. जल्द ही हम बाकियो को भी गिरफ्तार करने में सफल होंगे.