पूर्णिया: आठ साल की बच्ची का अपहरण

पूर्णिया: बच्चियों के खिलाफ होते अपराध रुकने का नाम नहीं ले रहे है. आपराधिक वारदातों से परेशान बिहार के पूर्णिया में अब एक 8 साल की मासूम बच्ची को अगुवा कर लिया गया है जिसकी रिपोर्ट थाने में कर दी गई और पुलिस बच्ची की तलाश कर रही है. पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार बच्ची स्कूल से घर लौट रही थी तभी रास्तें में से उसे किडनेप कर लिया गया. 


पुलिस के मुताबिक पूर्णिया के सनौली चौक निवासी व्यापारी सुरेंद्र बिनाकिया की बेटी नव्या सोमवार को अपने स्कूल की बस से उतरकर घर की तरफ जा रही थी, तभी पीछे से आई एक कार में सवार कुछ लोगों ने नव्या को जबरन उठा लिया और फरार हो गए. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि अपहर्ताओं ने जिस सनौली चौक पर इस घटना को अंजाम दिया, वह भीड़भाड़ वाला इलाका है, लेकिन किसी ने इस घटना का विरोध नहीं किया. 

घटना की जानकारी मिलने के बाद पूर्णिया के पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा ने खुद घटनास्थल पर पहुंचे. एसपी ने बताया कि वारदात के बाद पूरे जिले में वाहनों की तलाशी के लिए नाकेबंदी की गई है. साथ ही अपहरण करने वाले लोगों की तलाश के लिए कई जगह छापेमारी की जा रही है. एसपी ने दावा किया कि जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. अपराधियों के बढ़ते होसलो के आगे फ़िलहाल पुलिस और प्रशासन बेबस ही नजर आ रहा है और ये कहानी अकेले बिहार की नहीं वरन पूरे भारत की है. कानून की सख्ती का ढोल पीटने वाली सरकारो के मुँह चिढ़ाते हुए हर रोज होते खुलमखुल्ला दर्जनों अपराध अखबारों की सुर्खियां बनकर दफ़न हो रहे है.

 

कर्नाटक चुनाव प्रचार में नीतीश कुमार भी कर रहे है जोर आजमाइश

आरा मर्डर : हत्यारों तक नहीं पहुँच पाई है पुलिस अभी

बिहार स्टार्ट अप में 5 हजार आवेदन, सिर्फ 29 का चयन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -