25 करोड़ रुपये की लॉटरी जीतने वाले को अब हो रहा अफ़सोस, वजह सुनकर चौंक जाएंगे आप

तिरुवनंतपुरम: केरल में 25 करोड़ रुपये की ओणम बंपर लॉटरी जीतने वाले ऑटोरिक्शा ड्राइवर अनूप अब मुश्किलों से घिर गए हैं। जी दरअसल इतनी बड़ी रकम हासिल करने के ठीक पांच दिन बाद उन्हें अपनी इस जीत पर पछतावा हो रहा है और अब वह ये सोचने पर मजबूर हो गए हैं कि काश ये लॉटरी उन्होंने न जीती होती। जी दरअसल केरल सरकार के मेगा ओणम रैफल में फर्स्ट प्राइज़ जीतने के बाद अनूप बेहद खुश हुए थे। उनको यह लगा था कि वह इन पैसों से अपनी और अपने परिवार की सारी परेशानियां दूर कर देंगे, हालाँकि ऐसा होने से पहले ही तमाम लोगों की उनसे उम्मीदें बढ़ गईं और अब वह लोगों की निगाह से बचने के लिए जगह बदलते रहते हैं।

हाल ही में अनूप ने कहा, ‘मैंने इस लॉटरी को जीतने के बाद अपने मन की सारी शांति खो दी है। मैं अपने घर में भी नहीं रह सकता। क्योंकि मैं ऐसे लोगों से घिरा हुआ हूं, जो मुझसे अपनी अलग-अलग जरूरतों को पूरा करने के लिए उम्मीद लगाए बैठें हैं। मैंने पहला पुरस्कार जीता है, लेकिन अब मुझे इसका अफसोस है। मैं अब जहां रहता हूं, वहां से जगह बदलता रहता हूं। मैंने अपनी वो खुशी और मन की शांति खो दी है, जो मुझे पुरस्कार जीतने के वक्त हुई थी।’ जी दरअसल अनूप अपनी पत्नी, बच्चे और मां के साथ श्रीवराहम में रहते हैं और जीत का टिकट अनूप ने यहां के एक लोकल एजेंट से अपने बच्चे की छोटी सी बचत पेटी को तोड़कर खरीदा था। वहीं जीतने के बाद टैक्स और बाकी बकाया राशि में कटौती के बाद अनूप को पुरस्कार राशि के तौर पर 15 करोड़ रुपये मिले।

अनूप ने अब इसी बारे में बात करते हुए कहा, ‘अब मैं सच में यह सोचता हूं कि मुझे लॉटरी नहीं जीतनी चाहिए थी। क्योंकि अब ये मेरे लिए एक बड़ी परेशानी बन गया है। मैं घर के बाहर भी नहीं जा सकता। लोग लगातार मुझसे अपने लिए मदद मांग रहे हैं। मैं अपने सोशल मीडिया अकाउंट का इस्तेमाल लोगों को ये बताने के लिए कर रहा हूं कि मुझे अभी तक पुरस्कार राशि नहीं मिली है।’ जी दरअसल अनूप को अब इस बात का अफसोस होने लगा है कि अगर वह लोगों को पैसे नहीं देते, तो उनके अपने लोग ही उनके दुश्मन बन जाएंगे।

जी दरअसल हाल ही में अनूप ने कहा, ‘मैंने तय नहीं किया है कि इन पैसों का क्या करना है। अभी फिलहाल मैं दो साल तक इन पैसों को बैंक में रखूंगा। मैं वास्तव में चाहता हूं कि मेरे पास इन पैसों को नहीं होना चाहिए था। इतनी बड़ी रकम जीतने के बजाय काश मैंने कम राशि जीती होती, तो बेहतर होता।’ इसके अलावा उन्होंने कहा, ‘मेरे पड़ोसी मुझसे नाराज हैं। लोग मेरे चारों ओर भीड़ लगाते हैं कि मैं विजेता हूं। मेरे मन की शांति भंग हो गई है।’

'ग़जनी, गोरी, मुगलों ने भी हिन्दुओं की हत्या की, लेकिन..', ब्रिटेन में हिन्दू विरोधी हिंसा पर भड़के स्वामी

कांग्रेस के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेगा ये मशहूर अभिनेता, ये है वजह

पिथौरागढ़ में हुआ खतरनाक भूस्खलन, वीडियो देख कांप जाएंगे आप

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -