कोरोना से बचने के लिए टैक्सी कंपनी ने किया उपाय, यात्री और ड्राइवर की सीट के बीच लगाया पारदर्शी विभाजन

कोच्ची: चीन के वूहान शहर से फैले कोरोना वायरस ने इस समय पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले रखा है। दुनिया के कई देश इस महामारी से बुरी तरह जूझ रहे हैं, वहीं भारत में भी इस वायरस का संक्रमण लगातार तेजी से फैलता जा रहा है और मरीजों की संख्या में दिनों दिन बढ़ोतरी हो रही है। संक्रमण को रोकने के लिए सरकार तो कदम उठा ही रही है, वहीं अब स्थानीय प्रशासन भी इस वायरस के प्रसार को रोकने के लिए अपने स्तर पर उपाय कर रहा है।

ऐसी ही एक खबर केरल से सामने आई है। राज्य के एर्नाकुलम में जिला प्रशासन के सुझावों के बाद, एक प्राइवेट टैक्सी कंपनी ने कोरोना वायरस  के प्रसार को रोकने के लिए अपनी कैब में ड्राइवर और यात्री सीटों के बीच एक पारदर्शी विभाजन स्थापित किया है। ताकि अगर गलती से कोई संक्रमित व्यक्ति भी कैब में चढ़ जाता है, तो उसका संक्रमण ड्राइवर तक ना पहुंचे।

बता दें कि इस फर्म की टैक्सियां ​​प्रत्यावर्तन उड़ानों, जहाजों द्वारा लौटने वालों के परिवहन के लिए तैनात की जाती हैं। आपको बता दें कि केरल सरकार ने कोरोना को रोकने के लिए बहुत ही सराहनीय काम किया है।  केरल के कुल 512 संक्रमित मामलों में से अभी तक मात्र 5 लोगों की मौत हुई है। वहीं एक समय में महाराष्ट्र के साथ देश के सबसे अधिक कोरोना प्रभावित राज्यों में रहे केरल ने संक्रमण को रोकने में काफी हद तक कामयाब रहा है।

सप्ताह के पहले दिन हरे निशान में खुले बाजार, 350 अंक चढ़ा सेंसेक्स

सरकार ने किसानों के खातों में डाले 18 हज़ार करोड़, इस तरह चेक करें अपने अकाउंट का बैलेंस

राष्ट्रीय तकनिकी दिवस पर पीएम मोदी ने किया 'अटलजी' को याद, परमाणु परीक्षण के लिए किया नमन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -