कोरोना काल में बैठक के लिए जमा हुए 350 पादरी, 100 हुए संक्रमित, 2 की मौत

May 05 2021 11:55 AM
कोरोना काल में बैठक के लिए जमा हुए 350 पादरी, 100 हुए संक्रमित, 2 की मौत

कोच्ची: केरल के मुन्नार में गत माह एक वार्षिक कार्यक्रम में शामिल हुए चर्च ऑफ साउथ इंडिया (CSI) के 100 से अधिक पादरी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से दो की मौत हो चुकी है और 5 गंभीर अवस्था में हैं। संक्रमितों में CSI मॉडरेटर और साउथ केरल राज्य के बिशप रेव ए धर्माराज रसालम का नाम भी शामिल हैं। वे फिलहाल होम क्वारंटाइन में हैं। मीडिया रिपोर्ट के दौरान बीते माह हुए रीट्रीट कार्यक्रम में कोरोना गाइडलाइन्स की धज्जियाँ उड़ाई गई थी।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पादरियों और समुदाय सदस्यों की कॉन्फ्रेंस पिछले माह 13 अप्रैल से 17 अप्रैल के बीच CSI क्राइस्ट चर्च में हुई थी। 350 पादरी विभिन्न स्थानों से इस मीट में शामिल होने आए थे। खबर में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि कार्यक्रम को स्थगित करने के अनुरोध के बाद भी यह बैठक की गई। इसके साथ ही कहा गया था कि यदि कोई पादरी इसमें शामिल नहीं हुआ, तो उस पर अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी।

इस मीट के लिए पादरियों को तिरुवनंतपुरम के LMS चर्च से मुन्नार के लिए बस में यात्रा करना पड़ी। इसके बाद काज़ुकोड, वत्सपारा के CSI चर्च के 52 वर्षीय पादरी रेव बिजूमॉन बीमार हुए और बीते गुरुवार उनका निधन हो गया। इसी तरह थिरुमाला के पास सीएसआई चर्च, पुन्नककुगल के 43 वर्षीय पादरी रेव शिने बी राज ने भी कोविड संक्रमण की चपेट में आने के चलते इस मंगलवार दम तोड़ दिया। कई अन्य पादरी भी डॉ. सोमरवेल CSI मेडिकल कॉलेज अस्पताल में अपना उपचार करवा रहे हैं, वहीं कुछ होम क्वारंटाइन में हैं।

कोरोना: इमरजेंसी हेल्थ सेवा के लिए 50,000 करोड़ रुपये देगा RBI, शक्तिकांत दास ने किया ऐलान

ख़त्म हुए चुनाव, पेट्रोल-डीजल की कीमतों में फिर लगी आग, जानिए आज के भाव

2021-22 के लिए भारत की आशाओं को बड़ा झटका, Goldman Sachs ने कम किया वृद्धि अनुमान