तमिलनाडु है केरल में आई त्रासदी का जिम्मेदार!!

तिरुवनंतपुरम : केरल में आई त्रासदी से अब तक लगभग साढ़े तीनसौ से ज्यादा लोग अपनी जान गवां चुके हैं और कई लोग बेघर हो गए है. अब इस मामले पर सियासत शुरू हो चुकी है. जहां एक ओर अब तक लोग इस मुसीबत से निकल नहीं पाए हैं वहीं दूसरी ओर राजनीतिक पार्टियां एक-दूसरे पर निशाना साधने में जुटी हुई हैं. अब केरल सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि केरल में बाढ़ आने का जिम्मेदार तमिलनाडु है.

क्या बाढ़ को रोकने के लिए बनाये गए बांध ही बन रहे है बाढ़ की वजह ?

केरल सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि तमिलनाडु के मुल्लापेरियार बांध से अचानक ही पानी छोड़ने के कारण राज्य में बाढ़ आई है. केरल सरकार द्वारा दाखिल हलफननामे में ये भी कहा गया है कि केरल में आई बाढ़ से करीब 3.48 करोड़ की आबादी में से 54 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं. इसके साथ ही तमिलनाडु सरकार से अनुरोध भी किया गया कि 139 फिट तक पानी धीरे-धीरे छोड़ा जाए लेकिन फिर भी तमिलनाडु सरकार की तरफ से इसका कोई भी सकारात्मक आश्वासन प्राप्त नहीं हुआ था.

दिल के ऑपरेशन के लिए पाई पाई जोड़ी, लेकिन बाढ़ राहत के लिए दान किए पैसे

इसके बाद अचानक ही मुल्लापेरियार बांध से पानी छोड़ दिया गया था जिस वजह से पूरा इडुक्की जलाशय हो गया और अब ये बाढ़ एक बड़ी समस्या बन चुकी है. आपको बता दें इडुक्की जिले में थेकडी के पास पश्चिम घाट पर पेरियार नदी पर मुल्लापेरियार बांध स्थित है. इस मामले में केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी का कहना है कि इस मुसीबत की घड़ी में उन्हें राजनीतिक दलों को राजनीति से सभी को बचने की जरुरत है.

खबरे और भी...

केरल बाढ़ के बाद दिखा राज्य में सांप्रदायिक सौहार्द, मस्जिदों में रह रहे हिंदू, मुसलमान कर रहे मंदिरों की सेवा

Kerala Flood : बाढ़ पीड़ितों को लेकर शख्स ने उठाये इस एक्टर पर सवाल

बाढ़ प्रभावित लोगों को खाना बनाकर खिला रहा है बॉलीवुड का ये सुपरहीरो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -