'केजरीवाल ही मुस्लिमों के सच्चे हितैषी..' गुजरात में ‘मुस्लिम फाइटर्स क्लब’ का AAP को खुला समर्थन

अहमदाबाद: गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर काफी गहमागहमी देखने को मिल रही है। इसी बीच अहमदाबाद के जुहापुरा स्थित ‘मुस्लिम फाइटर्स क्लब’ ने गुजरात चुनाव से एक हफ्ते पहले रविवार (27 नवंबर) को एक बड़ी बैठक की। इस बैठक में लगभग 3,000 मुस्लिम परिवारों ने अरविंद केजरीवाल की अगुवाई वाली आम आदमी पार्टी (AAP) के प्रति अपनी निष्ठा की कसम खाई। इस्लामिक आयतें पढ़ने वाले एक मौलाना की उपस्थिति में ‘नारा-ए-तकबीर-अल्लाहु अकबर’ के नारों के बीच ‘मुस्लिम फाइटर्स क्लब’ ने केजरीवाल के समर्थन का ऐलान किया।

AAP-मुस्लिम में इलू-इलू :-

‘मुस्लिम फाइटर्स क्लब’ ने इस मीटिंग में केजरीवाल और AAP के समर्थन में नारेबाजी भी की। इसमें से एक नारा, 'हाथ मा झाड़ू लीलू-लीलू, AAP-मुस्लिम इलू-इलू' था। इस नारे में, हाथ में झाड़ू यानी AAP के चुनाव चिन्ह के लिए इस्तेमाल किया गया था। वहीं, AAP और मुसलमानों के लिए इलू-इलू का मतलब ‘आई लव यू’ समझा जा रहा है। दरअसल, इलू का इस्तेमाल ‘आई लव यू’ के लिए ही होता है। वहीं, एक अन्य नारा ‘वोट फॉर मैगी’ था। इस नारे में मैगी का मतलब मनीष सिसोदिया (M), अरविंद केजरीवाल (A), गोपाल इटालिया (G) और इसुदन गढ़वी (I) है।

पूरी दुनिया के मुस्लिमों का ख्याल रखते हैं केजरीवाल :-

इस बैठक में एकत्रित हुए मुस्लिम समुदाय ने कांग्रेस पर मुसलमानों का लाभ उठाने का इल्जाम लगाया। ‘मुस्लिम फाइटर्स क्लब’ का सञ्चालन करने वाले इमरानभाई ने कहा कि, 'मुस्लिम समुदाय सदैव नफरत का शिकार रहा है और केवल केजरीवाल ही मुसलमानों के असली हितैषी हैं। मैंने दिल्ली में अपने मुस्लिम भाइयों से बात की, तो उन्होंने बताया कि उनकी स्थिति में सुधार हुआ है। केजरीवाल पूरे विश्व के हर हिस्से के मुस्लिमों का ख्याल रखते हैं।' उन्होंने यह भी कहा है केजरीवाल मुस्लिम शरणार्थियों का भी पूरा ध्यान रखते हैं। हालाँकि, इमरानभाई ने यह स्पष्ट नहीं किया कि मुस्लिम शरणार्थियों से उनका क्या आशय था।

दिल्ली में AAP पर अवैध रोहिंग्याओं को बसाने का आरोप:-

बता दें कि जनवरी 2020 में ऐसी मीडिया रिपोर्ट्स सामने आई थी कि AAP के विधायक अमानतुल्लाह खान और अरविंद केजरीवाल की दिल्ली सरकार व्यवस्थित रूप से दिल्ली में अवैध रोहिंग्या मुसलमानों को बसाने का काम कर रही थी। यही नहीं, अवैध रोहिंग्या उत्तर प्रदेश सरकार के सिंचाई विभाग की लगभग 5.2 एकड़ जमीन पर भी गैरकानूनी रूप से बसे हुए हैं। इस जमीन का खसरा नंबर 612 है। इस जमीन पर रोहिंग्या और बांग्लादेशी मुस्लिम गैरकानूनी रूप से रह रहे हैं। भाजपा भी दिल्ली की AAP सरकार पर यह आरोप लगाती रही है कि, केरजीवाल सरकार अवैध रोहिंग्या मुस्लिमों को राजधानी में बसाने में पूरी मदद कर रही है और उनके भारतीय दस्तावेज़ भी बनवाए जा रहे हैं, ताकि ये रोहिंग्या, भारतीय नागरिक न होते हुए भी चुनाव में वोट डाल सकें। माना जा रहा है कि, इमरानभाई शायद इन्ही मुस्लिम शरणार्थीयों की बात कर रहे थे, जिनका केजरीवाल पूरा ख्याल रखते हैं  

'8 दिसंबर तक चुप रह वरना, जेल में ही मार डालेंगे..', क्या सुकेश को AAP दे रही धमकियाँ ?

'दाढ़ी बनवा लें, तो नेहरू जैसे दिखने लगेंगे राहुल..', सद्दाम हुसैन बताने के बाद CM सरमा का नया बयान

क्या फिर अमेठी से चुनाव लड़ेंगे राहुल ? 2019 में स्मृति ईरानी ने दी थी करारी शिकस्त

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -