सरकार के 'ऑपरेशन शील्ड' ने किया चमत्कार, कोरोना मुक्त हुआ दिलशाद गार्डन

नई दिल्ली: दिल्ली की केजरीवाल सरकार के आपरेशन शिल्ड को पहली बार दिलशाद गार्डन इलाके में अपनाया गया था. यहां 8 कोरोना संक्रमित मामले आने के बाद दिल्ली सरकार ने यह आपरेशन चलाया गया था. इस आपरेशन के तहत 15 दिन की मेहनत से इस इलाके को कोरोना मुक्त किया जा सका है. अब दस दिन से यहां कोई कोरोना का एक भी मामला सामने नहीं आया है.

दरअसल, दिलशाद गार्डन की एक महिला और उसके बेटे में सउदी अरब से भारत आने पर कोरोना पॉजिटिव पाया गया था. महिला का उपचार करने वाले मोहल्ला क्लीनिक डाक्टर सहित 7 कोरोना संक्रमित हो गए थे. इसके बाद दिल्ली सरकार द्वारा  दिलशाद गार्डन और पुरानी सीमापुरी इलाके को पूरी तरह से कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया था. महिला के 81 कांटैक्ट को चिन्हित किया गया. उनका उपचार और क्वारंटाईन किया गया.

महिला के बेटे के कांट्रेक्ट को निकालने के लिए दिल्ली सरकार के सीसीटीवी कैमरे की जांच की गई. फिर दिलशाद गार्डन और ओल्ड सीलमपुर में 123 मेडिकल टीमें गठित की गईं. इन टीमों ने 4032 घरों में रहने वाले 15 हजार से ज्यादा लोगों की स्क्रीनिंग की, जिनमें कोरोना के लक्षण पाए गए, उन्हें क्वारेंटाइन किया गया. मेडिकल टीम की मेहनत और लगन रंग लाई और अब वहां एक भी कोरोना संक्रमित नहीं मिल रहा है. फिर भी दिल्ली सरकार लगातार 15 हजार लोगों को फोन कर कोरोना के बारे में जानकारी ले रही हैं. इस क्षेत्र पर लगातार नजर रख रही है.

क्या 15 अप्रैल से शुरू हो जाएंगी ट्रेनें ? अब रेलवे ने दिया जवाब

कोरोना: सुविधाओं की कमी से जूझ रहे अफ्रीकी देश, 10 लाख लोगों के लिए सिर्फ 5 बेड

कोरोना पर एक्शन मोड में सोनिया, कांग्रेस शासित मुख्यमंत्रियों को देंगी अहम निर्देश

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -