नया घर बनाते समय रखे इन बातों का ध्यान, वरना बढ़ जाएगी समस्या

नया घर बनाते समय रखे इन बातों का ध्यान, वरना बढ़ जाएगी समस्या
Share:

सनातन धर्म में वास्तु शास्त्र का खास महत्व है। वास्तु शास्त्र में घर के निर्माण से लेकर घर की वस्तुओं को किस दिशा में रखना चाहिए तक का वर्णन किया गया है। यदि हम वास्तु शास्त्र के बताए गए मार्गदर्शन पर चलते हैं, वास्तु शास्त्र के नियमों का पालन करते हैं तो किसी भी तरह का दोष हमारे जीवन में प्रभाव नहीं डालता है। वास्तु शास्त्र के मुताबिक, यदि आप नए घर का निर्माण करवा रहे हैं तो कुछ नियमों को जान लेना आवश्यक है. 

यदि आप इन बातों का ध्यान नहीं रखते हैं तो भविष्य में आपको समस्याएं हो सकती हैं. इन गलतियों के कारण कई बार घर में दोष भी लग जाता है जिस कारण संकट आने आरम्भ हो जाते हैं. वास्तु शास्त्र के मुताबिक, यदि या घर बना रहे हैं तो कभी भी पुरानी लकड़ी का उपयोग नहीं करना चाहिए. ऐसा करना अशुभ होता है. दरअसल, कई बार लोग थोड़ा पैसा बचाने के लिए ऐसा करते हैं जबकि यह करना पूरी तरह गलत है. 

वास्तु शास्त्र के मुताबिक, ऐसे घर को बनाने वाला उस घर में स्वयं कभी नहीं रह पाता है. यदि रहता है तो नुकसान उठाता है. मकान में हमेशा एक, दो या तीन जाति की लकड़ी लगानी चाहिए. एक जातिकी उत्तम होती है, दो जातिकी मध्यम और तीन जातिकी अधम होती है. वास्तु शास्त्र के मुताबिक, नए घर को बनवाते समय ईंट, लोहा-पत्थर जैसी सभी चीजें पुरानी नहीं लगवानी चाहिए. वास्तु शास्त्र के मुताबिक, हर किसी मनुष्य को नया घर बनवाते समय इन बातों का ध्यान अवश्य रखना चाहिए. 

कब है गायत्री जयंती? जानिए इसका महत्व

महेश नवमी पर जरूर करें इन चमत्कारी मंत्रों का जाप

आज जरूर करें ये काम, पूरी हो जाएगी हर मनोकामना

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -