आखिरकार मांगनी पड़ी काटजू को माफी

भुवनेश्वर : अपने विवादित बयानों के लिये सुर्खियों में रहने वाले सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस मार्केंडेय काटजू को अपने ताजा बयान के लिये माफी मांगनी पड़ी है। उन्होंने ओडिशा विरोधी टिप्पणी की थी, लेकिन उनके बयान के बाद ही ओडिशा में उनका न केवल विरोध शुरू हो गया था वहीं उनका पुतला भी फूंकने का सिलसिला जारी हो गया है।

विरोध की आग को भड़कते देख काटजू को माफी मांगनी पड़ी। यह है पूरा मामला वैसे तो काटजू अपना बयान देने के बाद ही विवादों में घिर जाते है लेकिन उन्हें यह अंदाजा नहीं होगा कि उड़िया विरोधी बयान देने के बाद वे ओडिशा के लोगों का निशाना बन जायेंगे।

जानकारी मिली है कि काटजू ने अपनी फेसबुक पर यह लिखा था कि उन्हें उड़िया के बारे में लिखने के लिये कहा था लेकिन उड़िया और वहां के लोग उनकी नजर में गरीब है, इसलिये वे इस बारे मंे क्या लिखे। यहां तक कि काटजू ने सम्राट अशोक को लेकर भी बयान देते हुये कहा था कि कलिंग युद्ध में सम्राट अशोक ने हराया था ओर इसके बाद से ही वे मुरझाये हुये है। काटजू का इशारा ओडिशा के लोगों की तरफ था।

जदयू ने काटजू को घेरा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -