करवा चौथ पर इस आरती और मंत्र से करें पूजन

Oct 14 2019 05:00 PM
करवा चौथ पर इस आरती और मंत्र से करें पूजन

करवा चौथ का व्रत सभी महिलाओं के लिए बहुत ख़ास माना जाता है. ऐसे में इस बार यह व्रत 17 अक्टूबर यानी गुरूवार को किया जाएगा. वहीं करवाचौथ के दिन महिलाएं सोलह श्रृंगार करती हैं और यह प्रेम , समर्पण और त्याग का पर्व माना जाता है. इसी के साथ इस व्रत को करने से दाम्पत्य जीवन में सुख बढ़ता है और घर में समृद्धि और सौभाग्य आने लगता है. इस व्रत के दिन दिन शाम के समय भगवान गणेश, शिव और माता पार्वती की पूजा की जाती है और उसके बाद चंद्रमा की पूजा करने के बाद अर्घ्य दिया जाता हैं. इसी के साथ इस दिन चंद्र दर्शन के बाद पति अपनी पत्नी को पानी पिलाकर व्रत खुलवाता है. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं इस दिन किए जाने वाले करवा चौथ माता के मंत्र और उनकी आरती.


करवा चौथ माता के मंत्र -

ऊँ चतुर्थी देव्यै नम:, 

ऊँ गौर्ये नम:, 

ऊँ शिवायै नम:..

ऊँ नम: शिवायै शर्वाण्यै सौभाग्यं संतति शुभाम्.
प्रयच्छ भक्तियुक्तानां नारीणां हरवल्लभे..'

ये मंत्र बोलकर प्रणाम करें -
नमो देव्यै महादेव्यै शिवायै सततं नम:. 
नम: प्रकृत्यै भद्रायै नियता: प्रणता: स्मृताम्॥

करवा माता की आरती -
ऊँ जय करवा मइया, माता जय करवा मइया.
जो व्रत करे तुम्हारा, पार करो नइया.. ऊँ जय करवा मइया.

सब जग की हो माता, तुम हो रुद्राणी.
यश तुम्हारा गावत, जग के सब प्राणी.. ऊँ जय करवा मइया.

कार्तिक कृष्ण चतुर्थी, जो नारी व्रत करती.
दीर्घायु पति होवे , दुख सारे हरती.. ऊँ जय करवा मइया.

होए सुहागिन नारी,  सुख सम्पत्ति पावे.
गणपति जी बड़े दयालु, विघ्न सभी नाशे.. ऊँ जय करवा मइया.

करवा मइया की आरती, व्रत कर जो गावे.
व्रत हो जाता पूरन, सब विधि सुख पावे..  ऊँ जय करवा मइया.

ये शानदार ब्लाउज पहकर करवाचौथ पर सबसे हटकर दिख सकती हैं आप

करवाचौथ के दिन भूल से भी न करें यह 7 काम वरना नहीं मिलेगा फल

करवाचौथ स्पेशल : इन कलर के ऑउटफिट्स के साथ फेस्टिव लुक बनाये glamorous