मनी लॉन्ड्रिंग मामला: ED के समक्ष पेश हुए पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम, 2 घंटे चली पूछताछ

मनी लॉन्ड्रिंग मामला: ED के समक्ष पेश हुए पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम, 2 घंटे चली पूछताछ

नई दिल्ली: पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम आईएनएक्स मीडिया से सम्बंधित मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच के संबंध में शुक्रवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने पेश हुए. धनशोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के अंतर्गत बयान दर्ज कराने के लिए बुलाए गए कांग्रेस नेता सुबह लगभग 11 बजे मध्य दिल्ली स्थित एजेंसी के कार्यालय पहुंचे. चिदंबरम से इस मामले में पहले में भी कई बार पूछताछ की जा चुकी है. 

आज डॉलर के मुकाबले रुपये की हुई कमजोर शुरुआत

एजेंसी ने उनके बेटे कार्ति से भी इस मामले में गुरुवार को लगभग छह घंटे तक पूछताछ की थी. ईडी ने गत वर्ष कार्ति की भारत एवं विदेश में मौजूद लगभग 54 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की थी. केंद्रीय जांच एजेंसी ने सीबीआई की एक एफआईआर के आधार पर पीएमएलए के तहत केस दर्ज किया था और आईएनएक्स मीडिया को विदेशी चंदा प्राप्त करने के लिए दी गई विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की इजाजत में धांधली का आरोप लगाया था. यह मंजूरी दि‍ए जाने के दौरान पी चिदंबरम के पास वित्त मंत्रालय था.

आज शुरुआत के साथ ही शेयर बाजार में नजर आई बढ़त

एजेंसी ने कार्ति, आईएनएक्स मीडिया और उसके निदेशकों, पीटर एवं इंद्राणी मुखर्जी सहित सीबीआई की शिकायत में नामजद अन्य आरोपियों के विरुद्ध प्रवर्तन मामला सूचना रिपोर्ट (ईसीआईआर) दर्ज कराई थी. कार्ति को मामले की जांच कर रही अन्य केंद्रीय एजेंसी, सीबीआई ने गत वर्ष 28 फरवरी को गिरफ्तार भी किया था. उन पर आरोप है कि 2007 में आईएनएक्स मीडिया को एफआईपीबी की अनुमति दिलाने के लिए उन्होंने कथित तौर पर रिश्वत ली थी, जिसके बाद उन्हें बाद में जमानत मिल गई थी.

खबरें और भी:-

हर माह वेतन डेढ़ लाख रु, कई पदों पर एक साथ होगी भर्ती

NIFT में भर्तियां, सैलरी 35 हजार रु से अधिक

इस विदेशी कंपनी ने बताया खुद को भारतीय बाजार के लिए सकारात्मक