करणी सेना का ऐलान, भाजपा-कांग्रेस से मिला धोखा, अब हम बनाएँगे राजनितिक पार्टी

करणी सेना का ऐलान, भाजपा-कांग्रेस से मिला धोखा, अब हम बनाएँगे राजनितिक पार्टी

जयपुर: करणी सेना ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस दोनों पर ही वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए नई सियासी पार्टी बनाने का ऐलान किया है. करणी सेना ने कहा है कि कांग्रेस और भाजपा दोनों ही उनका इस्तेमाल करती हैं. बता दें कि करणी सेना फिल्म पद्मावती का विरोध करने के बाद देशभर में चर्चा में आ गई थी, जिसके बाद फिल्म का नाम बदलकर पद्मावत करना पड़ा था.  

श्री राजपूत राष्ट्रीय करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने कहा है कि, 'वर्तमान लोकसभा चुनाव में करणी सेना न तो भाजपा के साथ है और न ही कांग्रेस के समर्थन में हैं. पद्मावती फिल्म के अलावा आनंदपाल जैसे कई अन्य मुद्दों पर हमने भाजपा का विरोध किया था, किन्तु भाजपा ने हमारी स्वर्ण आर्थिक आरक्षण जैसी बड़ी मांग को मान लिया था, जिसके कारण राजपूतों का भाजपा के प्रति गुस्सा कम तो हुआ था, किन्तु जिस तरह से लोकसभा चुनाव में भाजपा ने राजपूतों को छला है, उसे देखते हुए हमने राजपूत प्रत्याशियों को समर्थन देने और बाकी की लोकसभा सीटों पर इस बार घर बैठने का फैसला लिया है.

गोगामेड़ी ने आगे कहा है कि राजपूतों ने कांग्रेस का साथ कभी नहीं दिया है. ऐसे में हम कांग्रेस के साथ नहीं जा सकते हैं, किन्तु गुजरात और छत्तीसगढ़ जैसे बड़े प्रदेशों में एक भी राजपूत को भाजपा ने उम्मीदवार नहीं बनाया है. इसलिए भाजपा के खिलाफ भी करणी सेना में नाराजगी है. अब हम नेता बनेंगे और राजपूतों का एक अलग वोट बैंक तैयार करेंगे.

खबरें और भी:-

राफेल मामले में उल्टे फंसे राहुल गाँधी, कोर्ट की अवमानना का मामला दर्ज

आय से अधिक संपत्ति मामला: मुलायम -अखिलेश को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत

अमेरिका की चीन-पाक को दो टूक, कहा - ASAT भारत का हक़