इस राज्य में दलित बीजेपी सांसद को मंदिर जाने से रोका

बेंगलोरः देश में तमाम तरह के जागरूकता अभियानों के बावजूद भी जाति वाद का जहर अब तक कायम है। हाल ही में इसका शिकार बीजेपी के एक दलित सांसद हुए हैं। कर्नाटक से भाजपा सांसद ए. नारायणस्वामी को तुमकुरु स्थित एक गांव के मंदार में जाने से रोक दिया गया है। इस गांव में यादव समुदाय की संख्या ज्यादा है और नारायणस्वामी दलित समुदाय से संबंध रखते हैं। तुमकुरु जिले के परमानहाल्ली गांव में यह घटना सोमवार को हुई। चित्रदुर्ग लोकसभा क्षेत्र से सांसद नारायणस्वामी दिक्कतों को जानने के लिए गांव गए थे, ताकि विकास कार्यो का खाका तैयार किया जा सके।

वे गांव में सड़क निर्माण और पेयजल इकाई की स्थापना करना चाहते थे, लेकिन उन्हें वापस लौटना पड़ा। एक स्थानीय नागरिक नागराज ने कहा, 'हमारी पुरानी परंपरा रही है। यहां का लंबा इतिहास रहा है, इसलिए गांव के लोगों ने कहा कि सांसद को मंदिर में प्रवेश की इजाजत नहीं दी जानी चाहिए। इस घटना पर दुख जताते हुए बीजेपी सांसद नारायणस्वामी ने कहा कि मुझे गहरा दुख पहुंचा कि दलित होने की वजह से मुझे प्रवेश नहीं करने दिया गया। मैं उनकी समस्याओं को सुनने और अन्य बुनियादी सुविधाएं देखने गया था। पुलिस ने मामले को संज्ञानम में लेते हुए इसकी जांच कर रही है। दरअसल राज्य में भाजपा की ही सरकार है।

इस संसद ने पाक को कश्मीर मामले में दिया झटका, पोलैंड ने आतंक के मामले में कही शानदार बात

दिल्ली में 'ऑड ईवन स्‍कीम' को खतरा नही, ये है रिपोर्ट

पी. चिदंबरम से जेल में मिले ये नेता, जानिए किन मुद्दो पर हुई वार्ता

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -