हिन्दू लड़की को मुस्लिम बनाने में महिला डॉक्टर जमीला भी शामिल, खलील-अयमान ने किया यौन शोषण

बैंगलोर: कर्नाटक के मंगलुरु एक हिंदू महिला को जबरन मुस्लिम बनाए जाने का सनसनीखेज मामले प्रकाश में आया है। गौर करने वाली बात ये है कि ये काम किसी मौलाना या मौलवी ने नहीं, बल्कि एक महिला डॉक्टर ने किया है, जो खुद मुस्लिम समुदाय से हैं। शहर की महिला पुलिस ने इस संबंध में एक महिला डॉक्टर सहित तीन लोगों पर केस दर्ज कर लिया है। पुलिस सूत्रों ने जानकारी दी है कि पीड़िता का नाम शिवानी है और उसकी उम्र 22 वर्ष है। शिवानी की मां की शिकायत के आधार पर पुलिस ने यह केस दर्ज किया है।

तीनों आरोपियों के खिलाफ IPC और कर्नाटक धार्मिक स्वतंत्रता अधिकार संरक्षण अध्यादेश, 2022 की धारा 3 और 5 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। आरोपियों की शिनाख्त खलील, डॉ. जमीला और अयमान के रूप में हुई है। पीड़िता की मां ने इस मामले को लेकर आरोपियों पर गंभीर इल्जाम लगाए हैं और पुलिस से कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। शिकायत के मुताबिक, एक फैंसी स्टोर में नौकरी करने वाली शिवानी, खलील की एक दुकान पर अपना मोबाइल फोन रिचार्ज करवाने जाया करती थी। इस दौरान खलील ने उससे बातचीत बढ़ाई और वादा किया कि वह 2021 में उसे बढ़िया वेतन के साथ अच्छी नौकरी दिलाएगा। इस बीच एक दिन वह शिवानी को लेकर अपने रिश्तेदार के घर पहुंचा, जहां पीड़िता का नाम बदलकर आयशा रख दिया गया। 

इसके बाद उसने डॉ. जमीला के घर में शिवानी को आयशा के नाम से नौकरी पर भी रखवा दिया। जहाँ पीड़िता को बुर्का पहनने के लिए बाध्य  किया गया। इसी समय अयमान नाम के एक युवक ने भी पीड़िता का यौन शोषण किया। शिवानी की मां ने पुलिस थाने में दी गई शिकायत में बताया कि शिवानी को नमाज पढ़ने के लिए बाध्य किया गया। इसके साथ ही उससे जबरन कुरान पढ़वाई गई। यही नहीं, शिकायत में यह भी कहा गया है कि खलील ने उसका यौन शोषण भी किया। पुलिस अधिकारियों ने जानकारी दी है कि शिकायत के आधार पर तीन लोगों को खिलाफ मामला दर्ज किया गया है और आगे की जांच जारी है।

जीजा से तंग आकर साले ने की ख़ुदकुशी, सुसाइड नोट में लिखी हैरान करने वाली बात

शराबी पिता ने कुल्हाड़ी से किए बेटे के टुकड़े, जब माँ और बहन घर पहुंची तो..

2 हफ्ते पहले लव मैरिज करने वाले दंपत्ति ने घर में लगाई फांसी, बाहर से आवाज़ें देती रह गई बूढी माँ

न्यूज ट्रैक वीडियो

Most Popular

- Sponsored Advert -