काशी विश्वनाथ के दर्शन के लिए तीर्थयात्रियों को 5000 रुपए अनुदान देगी ये सरकार, CM ने किया ऐलान

बैंगलोर: कर्नाटक की बसवराज बोम्मई सरकार ने सोमवार (27 जून 2022) को ‘काशी यात्रा’ परियोजना को हरी झंडी दे दी है। इसके तहत वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर जाने के इच्छुक 30,000 श्रद्धालुओं को 5,000 रुपए प्रतिव्यक्ति नकद मदद प्रदान की जाएगी। इसके लिए धार्मिक बंदोबस्ती विभाग के कमिश्नर को ‘काशी यात्रा’ के लिए स्वीकृत सात करोड़ रुपए का इस्तेमाल करने के लिए अधिकृत किया है। 

प्रदेश के धार्मिक बंदोबस्ती और हज एवं वक्फ मंत्री शशिकला जोले ने कहा है कि इस योजना का लाभ केवल कर्नाटक के मूल निवासी ही उठा सकते हैं। मूल निवास का प्रमाण पत्र के रूप में वोटर ID, आधार कार्ड या राशन कार्ड आदि देना होगा। मंत्री ने कहा कि काशी तीर्थयात्रा का लाभ लेने वाले जो भी आवेदक होंगे, उनकी उम्र 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। इसके लिए उन्हें अपना आयु प्रमाण पत्र पेश करना होगा। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा संचालित ‘काशी यात्रा’ का फायदा कोई भी तीर्थयात्री अपने जीवन में केवल एक बार ही ले सकता है।

उन्होंने आगे कहा कि जिन लोगों ने 1 अप्रैल से 30 जून तक काशी विश्वनाथ मंदिर की यात्रा की थी और इस योजना का फायदा लेना चाहते हैं, उन्हें अपने दर्शन टिकट या प्रतीक्षा सूची, ‘पूजा रसीद’ जैसे साक्ष्य पेश करने होंगे। उन्हें निर्धारित प्रारूप में इसे धार्मिक बंदोबस्ती विभाग के कमिश्नर के यहाँ जमा कराना होगा। बता दें कि कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई ने 2022-23 के बजट में काशी यात्रा के लिए 5,000 रुपए का अनुदान देने का ऐलान किया था। काशी यात्रा अनुदान योजना 2022 के लाभ उन लोगों के लिए लाई गई है, जो काशी की तीर्थयात्रा तो करना चाहते हैं, मगर आर्थिक रूप से कमजोर होने के चलते ऐसा नहीं कर पाते। 

OMG! आगरा में महिला ने एक साथ 4 बच्चों को दिया जन्म

अजब-गजब! बेटे की मौत के बाद हॉस्पिटल आत्मा लेने पहुंचे परिजन

बड़ी खबर: अब बच्चा गोद लेना होगा और भी आसान, जानिए कैसे

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -