कर्नाटक के सीएम येदियुरप्पा ने कहा- कोरोना वायरस को लेकर नहीं डरे, मैं भी हुआ संक्रमित

बेंगलुरु: कोरोना वायरस को देश की सबसे नुकसानदेह और घातक महामारी करार देते हुए कर्नाटक के सीएम बीएस येदियुरप्पा ने बताया कि इससे राज्य के लोग बहुत  हताश हैं. मध्य मार्च में जिसके फैलने के वक़्त से उन्हें भारी हानि हुई है. सीएम ने बोला कि लोग इस महामारी को लेकर नहीं डरें, क्योंकि वह भी जिससे संक्रमित हो चुके हैं. 15 अगस्त के अवसर पर अपने संबोधन में सीएम बोले, 'राज्य के लोग हताश हैं. कोरोना वायरस ने आर्थिक एवं सामाजिक गतिविधियों को ठप करते जा रहा है. मंदी, रोजगार की कमी पैदा हो गई है और राज्य सरकार को राजस्व घटता ही जा रहा है.'

लॉकडाउन कोरोना का समाधान नहीं: येदियुरप्पा ने बोले कि हालांकि राज्य सरकार ने शुरुआत में ही इसको फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन लागू कर दिया था, लेकिन आर्थिक और सामाजिक गतिविधियां जिसके बाद से रुक सी गई है. यह महसूस करने के उपरांत कि लॉकडाउन जिसका प्रसार रोकने का समाधान नहीं है, हमने एक जून से इसे हटाना जारी कर दिया. सभी नागरिकों के लिए मास्क पहनना, हाथ धोना और शारीरिक दूरी बनाए रखना जरुरी कर दिया. यह काम आर्थिक गतिविधियों को पटरी पर लाने और सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए कर दिया गया है.

कोरोना ने हर क्षेत्र को प्रभावित किया: उन्होंने बताया कि संचारी रोग ने हर क्षेत्र को प्रभावित किया है. लॉकडाउन के दौरान ठहर गई जिंदगी धीरे-धीरे पटरी पर वापस आती जा रही है. जिसके बाद इस बारें में उन्होंने बताया, 'मैं भी इस वायरस से संक्रमित हुआ, लेकिन मैं उबर गया हूं. इस मौके पर मैं लोगों से यही कहना चाहूंगा कि लोगों को इसके संक्रमण से डरने की आवश्यकता नहीं है.'

सुदीक्षा भाटी केस में बड़ा खुलासा, नहीं हुई कोई छेड़छाड़

अमेरिका में अलीबाबा पर भी लग सकता है बैन ! राष्ट्रपति ट्रम्प ने दिए संकेत

भूटान में 4 साल की बच्ची को हुआ कोरोना, देश में अब तक 133 हुए संक्रमित

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -