जान पर भारी पड़ी सेल्फी ! झरने में गिरने से 4 बच्चियों की दर्दनाक मौत

बैंगलोर: कर्नाटक में एक झरने के पास सेल्फी लेना बच्चियों की जान पर भारी पड़ गया। सेल्फी लेने के चक्कर में फिसलकर झरने में गिरने और डूबने से चार छात्राओं की मौत हो गई है। यह घटना शनिवार (26 नवंबर) की दोपहर में बेलगावी तालुक की सीमा के नजदीक स्थित किटवाड़ जलप्रपात की है। मृतक सभी छात्राएं, बेलागवी की रहने वाली थीं और कामत गली में स्थित एक मदरसे में पढ़ती थीं। इनकी शिनाख्त उज्ज्वल नगर की आसिया मुजावर (17), अंगोल के कुदशिया हसन पटेल (20), बेलगावी के जाटपत कॉलोनी की रुखसार भिस्ती (20) और तस्मिया के रूप में की गई है।

रिपोर्ट के अनुसार, मदरसे के कुल 40 छात्र शनिवार सुबह किटवाड़ जलप्रपात पर घूमने के लिए आए हुए थे। बताया जा रहा है कि यह हादसा उस समय हुआ, जब वे झरने के नजदीक खड़े होकर सेल्फी ले रहे थे। इसी दौरान संतुलन बिगड़ने की वजह से 5 छात्र पानी में गिर गए। तट के निकट खड़े लोगों समेत कोई भी तैरना नहीं जानता था, इसलिए लड़की को बचाया नहीं जा सका।

झरने में गिरने के बाद एक लड़की को किसी प्रकार बचा लिया गया और अस्पताल ले जाया गया। जिला अस्पताल के चिकित्सकों ने कहा कि उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। हादसे की खबर सुनते ही जिला अस्पताल में बड़ी तादाद में लोग इकठ्ठा हो गए। पुलिस ने एहतियात के तौर पर परिसर के आसपास अतिरिक्त सुरक्षाबल तैनात कर दिए। पुलिस उपायुक्त रवींद्र गदादी और बिम्स अस्पताल के सर्जन अन्नासाहेब पाटिल स्थिति की जानकारी लेने के लिए अस्पताल पहुंचे।

सजा है या मजा ? जेल में सत्येंद्र जैन को मिले 10 'सेवादार' ! AAP नेता का एक और Video

दिल्ली शराब घोटाला: ED ने दाखिल की चार्जशीट, 3000 पन्नों में गुनाहों का जिक्र

MCD चुनाव: कट्टर ईमानदार AAP के उम्मीदवार 'अपराधी' क्यों ? ADR रिपोर्ट से उठे सवाल

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -