दिन में कराटे कोच, रात में नकली पुलिस

बालाघाट: कोई सोच भी नही सकता की जो व्यक्ति दिन में बच्चों को आत्मरक्षा के लिए कराटे के गुर सिखाता था, वही रात के अँधेरे में नकली पुलिस बनकर लोगों से वसूली करता था. घटना एमपी के बालाघाट जिले की है|

कोतवाली थाना पुलिस ने देर रात बायपास आम रोड पर तीन लोगों को नकली पुलिस बनकर राहगीरों को रोक कर वसूली करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया. पुलिस पूछताछ कर रही है|

कोतवाली पुलिस ने बताया कि 6 माह से शिकायत मिल रही थी कि आम रोड बायपास पर राहगीरों के वाहनों की जाँच कर वसूली की जा रही है. शिकायत पर कोतवाली और डायल 100 की पुलिस ने मौके से तीन युवकों को पकड़ा. उनके कब्जे से साइरन लगी बाइक, डंडा, टोपी और एक रजिस्टर जब्त किया|

मिली जानकारी के अनुसार आकाश पिता अशोक अवस्थी शासकीय बैहर आईटीआई में कराटे का प्रशिक्षण देता है. उसने गगन पिता राज सचदेव और एक अन्य युवक को ग्राम रक्षा समिति में शामिल किये जाने का लालच देकर उक्त युवकों के साथ मिलकर रात में सुनसान जगह पर राहगीरों को रोक कर वसूली करता था. नकली पुलिस बनकर लोगों से वसूली करने के आरोप में तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्यवाही की जा रही है|

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -