पिता की याद में करण ने शुरू किया नया फॉउंडेशन, फिल्म जगत के कर्मचारियों की करेंगे मदद

पिता की याद में करण ने शुरू किया नया फॉउंडेशन, फिल्म जगत के कर्मचारियों की करेंगे मदद

अगले शनिवार को फिल्म निर्माता यश जौहर को ये दुनिया छोड़े 17 वर्ष पूरे होने वाले है। फिल्म निर्माता और निर्देशक यश चोपड़ा की बहन हीरू से ब्याह रचाने वाले यश जौहर ने हिंदी सिनेमा में मूवी निर्माण के कई मील के पत्थर को पार कर दिया है। सुनील दत्त की मूवी ‘मुझे जीने दो’ से अपना करियर शुरू करने वाले यश जौहर की याद में उनके बेटे निर्माता, निर्देशक करण जौहर ने शुक्रवार को एक फाउंडेशन की स्थापना की घोषणा की। ये फाउंडेशन इंडियन मनोरंजन जगत के लोगों का जीवन स्तर सुधारने में हर संभव मदद करने के संकल्प के साथ शुरू हुआ है। फाउंडेशन मूवी में काम करने वाले कर्मचारियों, तकनीशियों व कलाकारों से सम्बद्ध संगठनों के साथ मिलकर योजनाएं बनाएगा और इन्हें मदद पहुंचाएगा। महामारी के दौरान इसके अलावा भी धर्मा प्रोडक्शन्स विभिन्न संगठनों के माध्यमों से फिल्मकर्मियों की सहायता करता रहा है।

देवानंद की मूवी ‘गाइड’ से फिल्म जगत ने यश जौहर की काबिलियत को पहचानना शुरूकर दिया। जिसके उपरांत नवकेतन फिल्म्स और यश जौहर का नाता लंबा चला। 1976 में अमिताभ बच्चन, शत्रुघ्न सिन्हा और जीनत अमान की ब्लॉकबस्टार मूवी ‘दोस्ताना’ से यश जौहर खुद मूवी निर्माता बने और इसी फिल्म ने उनकी प्रोडक्शन कंपनी धर्मा प्रोडक्शंस की नींव डाली। इसी कंपनी ने अमिताभ बच्चन और मिथुन चक्रवर्ती की चर्चित फिल्म ‘अग्निपथ’ भी बनाई।

धर्मा प्रोडक्शंस के बैनर तले ही यश जौहर ने वर्ष 1998 अपने बेटे करण जौहर को मूवी निर्देशक बनाया मूवी ‘कुछ कुछ होता है’ से। शाहरुख खान, काजोल व रानी मुखर्जी की इस मूवी ने करण जौहर को एक कामयाब निर्देशक के तौर पर हिंदी सिनेमा में स्थापित किया। अपने पिता की याद में बने यश जौहर फाउंडेशन के बारे में करण कहते हैं, ‘मेरे  पिता की याद में बना ये फाउंडेशन उनकी विरासत को आगे ले गए। ये फाउंडेशन स्थापित करने में मुझे गर्व की भी अनुभूति हो रही है। जिसका उद्देश्य भारतीय फिल्म जगत के लोगों का जीवन स्तर सुधारना होगा।’

यश जौहर हिंदी मूवी जगत के सम्मानित निर्माताओं में से एक थे। उन्होंने शाहरुख खान, जूही चावला और अजीज मिर्जा को उनकी प्रोडक्शन कंपनी ड्रीम्ज अनलिमिटेड स्थापित करने में भी बहुत सहायता की। कंपनी की पहली मूवी ‘फिर भी दिल है हिंदुस्तानी’ का पूरा प्रोडक्शन यश जौहर ने ही संभाला था। बाद में उनकी ही सिफारिश पर जूही चावला के भाई बॉबी चावला इस कंपनी के प्रमुख बने थे बतौर निर्माता यश जौहर की आखिरी मूवी ‘कल हो ना हो’ रही।

अपने पिता के निधन के उपरांत करण जौहर ने अपने पिता की कंपनी धर्मा प्रोडक्शंस का कार्यभार संभाला और तब से ये कंपनी निरंतर तरक्की ही करती रही है। करण जौहर ने अपनी मूवी निर्माण कंपनी की एक डिजिटल शाखा धर्माटिक की स्थापना भी की और अब उन्होंने एक टैलेंट मैनजमेंट कंपनी धर्मा कॉर्नरस्टोर एजेंसी को शुरू कर दिया। धर्मा प्रोडक्शंस ने हाल ही में अपनी फिल्मों के वितरण के लिए वॉयकॉम 18 से एक बडी डील भी साइन की है। कंपनी की इन दिनों जो फिल्में निर्माण के विभिन्न चरणों में हैं, उनमें शामिल हैं, ‘ब्रह्मास्त्र’, ‘शेरशाह’, ‘सूर्यवंशी’ ‘दोस्ताना 2’, ‘लाइगर’,  ‘जुग जुग जीयो’ और दीपिका पादुकोण की एक अनाम फिल्म।

 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Karan Johar (@karanjohar)

राम गोपाल वर्मा ने अपने फैंस को दिया एक नया चेलेंज, कहा- रेखा और राज बब्बर के साथ खड़े इस चाइल्ड आर्टिस्ट को पहचानते हैं आप?

उर्वशी ने फादर्स डे के पहले जाहिर की अपने दिल की बात

The Undertaker ने अक्षय कुमार को दिया फाइट का चैलेंज, खिलाड़ी ने दिया शानदार जवाब