'अभी तो बस शुरुआत है...', साइकिल पर सवार होकर क्या इशारा कर रहे हैं कपिल सिब्बल ?

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी का दामन छोड़ चुके वरिष्ठ नेता और पेशे से वकील कपिल सिब्बल ने मंगलवार को बड़ी बात कही है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2024 के लिए कई लोग एक साथ आ रहे हैं। सिब्बल ने कांग्रेस छोड़कर अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी के समर्थन से एक स्वतंत्र प्रत्याशी के रूप में राज्यसभा उम्मीदवारी पेश की है। उत्तर प्रदेश से राज्यसभा में कांग्रेस का प्रतिनिधित्व कर चुके सिब्बल का कार्यकाल जुलाई माह में ख़त्म हो रहा है। उन्होंने कहा कि वे तो 16 मई को ही कांग्रेस से त्यागपत्र दे चुके हैं, क्योंकि, वे हमेशा से देश में एक स्वतंत्र आवाज बनना चाहते थे।

कपिल सिब्बल ने आगे कहा कि, मैं कांग्रेस का नेता था। मगर अब नहीं हूं। मैंने 16 मई को कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था। मैं कांग्रेस के संबंध में कुछ नहीं कहूंगा। मेरे लिए कुछ भी कहना सही नहीं है। 31 वर्ष पुराना रिश्ता तोड़ना आसान नहीं है। उच्च सदन के लिए पर्चा दाखिल करने के बाद उन्होंने कहा कि, 'मैंने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन दाखिल किया है। मैं हमेशा देश में एक स्वतंत्र आवाज बनना चाहता हूं। हम (विपक्ष) गठबंधन बनाना चाहते हैं ताकि हम मोदी सरकार का डटकर मुकाबला कर सकें।'

पेशे से वकील कपिल सिब्बल ने आगे कहा कि, 'मैं अखिलेश यादव जी का शुक्रगुजार हूं,. हम और भी कई लोग साल 2024 लोकसभा चुनाव के लिए एक साथ आ रहे हैं। हम 2024 से पहले केंद्र सरकार की कमियों को उजागर करेंगे। सभी अपने विचार जनता के समक्ष रखेंगे।'

कथा के दौरान प्रदीप मिश्रा ने किया PM का बखान तो भड़क गए दिग्गी, बोले- 'मोदी प्रसंग किस धार्मिंक ग्रंथ का अंग है'

'बलात्कार' पर मुलायम यादव के पुराने बयान को लेकर सीएम योगी ने अखिलेश को घेरा, विधानसभा में कही ये बात

पिता मंत्री थे तो चीनियों को दिलवा दिया 'भारत' का वीजा, अब कांग्रेस सांसद कार्ति चिदंबरम पर ED ने कसा शिकंजा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -