'मैं विकास दुबे हूँ कानपुर वाला'..... पकड़े जाने के बाद भी नहीं गई 'गैंगस्टर' की अकड़

Jul 09 2020 11:08 AM
'मैं विकास दुबे हूँ कानपुर वाला'..... पकड़े जाने के बाद भी नहीं गई 'गैंगस्टर' की अकड़

उज्जैन: कानपुर एनकाउंटर का मुख्य आरोपी विकास दुबे मध्य प्रदेश के उज्जैन से अरेस्ट कर लिया गया है। पुलिस की गिरफ्त में आने के बावजूद विकास दुबे की हेकड़ी कम नहीं हुई। पुलिस ने उसे जब गिरफ्तार किया और गाड़ी में बैठाने लगी तो वह अपने हेकड़ी दिखाते हुए चिल्लाया, 'मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला.....'। इससे पहले विकास दुबे के उज्जैन के महाकाल मंदिर में होने की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। यहाँ पुलिस ने उसे अरेस्ट कर लिया। 

हालांकि, गिरफ्तार होने के बाद भी विकास दुबे के चेहरे पर कोई डर या शिकन नजर नहीं आई। वह उसी हेकड़ी से तनकर पुलिस की गाड़ी तक गया। गाड़ी के पास आकर जब पुलिस ने उसे पकड़कर अंदर बैठाने की कोशिश, तो उसने पुलिस को धमकाते हुए कहा कि वह कानपुर वाला विकास दुबे हैं। विकास दुबे वहीं पर जोर से चिल्लाया, 'मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला....' उसके इतना बोलते ही उसके पीछे खड़े एक पुलिसवाले ने उसे एक थप्पड़ जड़ दिया।

महाकाल मंदिर के पुजारी आशीष ने बताया कि एनकाउंटर होने के खौफ से विकास दुबे खुद आत्मसमर्पण करना चाहता था। मंदिर परिसर में दाखिल होने के बाद विकास दुबे चिल्ला चिल्लाकर कहने लगा कि वह ही विकास दुबे है। उसने महाकाल मंदिर के सुरक्षाकर्मियों से कहा कि पुलिस को सूचित किया जाए। उसके बाद महाकाल मंदिर के पुलिस चौकी को सूचित किया गया। यह पूरा घटनाक्रम लगभग 9 बजे के आसपास हुआ। बता दें कि विकास दुबे 250 रुपये की रसीद कटवाकर मंदिर में दाखिल हुआ था।

चीन के खिलाफ सरकार सख्त, अब इम्पोर्ट ड्यूटी पर लिया बड़ा फैसला

मौसम जल्द बदलेगा करवट, कई इलाकों में भारी बारिश की संभावना

हवा में मौजूद है कोरोना वायरस, जानें क्या है सच