कमरे में अकेली थी नाबालिग लड़की, अचानक पड़ी 'इंस्पेक्टर' की नजर और कर डाला ये काम

कानपुर: देश के सबसे बड़े राज्य यूपी के कानपुर में नाबालिग के साथ दुष्कर्म के अपराधी पूर्व इंस्पेक्टर दिनेश त्रिपाठी को हिरासत में ले लिया गया है। पीड़िता के घर वाले ने उन्हें कमरे में बच्ची के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देखा था। बुधवार को अपराही को अदालत में पेश किया जायेगा तथा पीड़िता का मेडिकल कराया जायेगा।

दरअसल, रेप के अपराधी पूर्व इंस्पेक्टर दिनेश त्रिपाठी कानपुर के चकेरी थाने में ही कई वर्ष पहले थाना इंचार्ज थे, तभी उन्होंने चकेरी की फ्रेंड्स कॉलोनी में अपना घर बनवाया था। इस घर में ही नाबालिग लड़की किराए पर अपने परिवार वालों के साथ रहती थी। आरोपों के अनुसार, रविवार की रात दिनेश त्रिपाठी अपने घर पर आये, जहां उन्होंने नाबालिग को कमरे में अकेला पाकर उसका दुष्कर्म किया। पुलिस ने कहा कि दिनेश त्रिपाठी का फ्रेंड्स कॉलोनी में घर है, जिनके यहां पीड़ित युवती किराए पर अपने परिजनों के साथ रहती थी, लड़की के परिजनों ने एफआईआर लिखाई है।

वैसे कानपुर में पुलिस अधिकारी की रंगीन मिजाजी का यह प्रथम केस नहीं है। कानपुर में ही दस वर्ष पहले चकेरी सर्किल के सीओ अमरजीत शाही ने एक 15 साल की नाबालिग बच्ची को धमकाकर कई दिनों तक दुष्कर्म किया था, जिसमें अमरजीत शाही को सजा भी हो गई थी। अभी एक माह पूर्व ही उन्नाव के सीओ कृपा शंकर कनौजिया एक महिला सिपाही के साथ कमरे में आपत्तिजनक स्थिति में मिले थे, जिन्हें उन्नाव एसपी ने निलंबित भी कर दिया था।

लगातार छेड़छाड़ से थी परेशान, 11वीं कक्षा की छात्रा ने फांसी लगाकर दे दी जान

'जिगोलो बन जाओ, खूब पैसे मिलेंगे..', लालच में आकर ठगी का शिकार हुए दर्जनों लोग

'शिवराज जी, प्रदेश के माथे पर ये कलंक क्यों ?': कांग्रेस

Most Popular

- Sponsored Advert -