वीडियो जारी कर महाराष्ट्र सरकार पर भड़की कंगना, कहा- 'मुझे मार देना या हरमखोर...'

वीडियो जारी कर महाराष्ट्र सरकार पर भड़की कंगना, कहा- 'मुझे मार देना या हरमखोर...'

महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे और कंगना रनौत के बीच बहस का सिलसिला एक बार दोबारा से आरम्भ हो गया है। जी दरअसल दशहरे के मौके पर मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कंगना रनौत पर न‍िशाना साधा था। वहीँ उसका जवाब देने के लिए पहले तो कंगना रनौत ने जमकर ट्वीट किये। वहीँ ट्वीट के बाद अब कंगना ने शेयर किया है अपना एक वीडियो। आप देख सकते हैं इस वीडियो में कंगना ने बेबाक बयान दे डाला है। जी दरअसल अपने नए वीडियो में कंगना ने 'श‍िवसेना' को 'सोनिया सेना' कह डाला है।

आप देख सकते हैं वीडियो में कंगना कह रहीं हैं, 'उद्धव ठाकरे, तुमने मुझे कल अपने भाषण में गाली दी। नमकहराम कहा। इससे पहले भी 'सोनिया सेना' के कई लोगों ने मुझे खुलेआम गाली दी, मुझे धमकाया, मेरा जबड़ा तोड़ने की बात की है। मुझे मार देना या हरामखोर कहना या इस तरह की कई अभद्र गालियां मुझे सोनिया सेना ने दी हैं, लेकिन नारीसशक्तिकरण के ठेकेदारों ने कुछ नहीं कहा। उसी भाषण में आपने हिमाचल को, जो मां पार्वती की जन्‍मभूमि है, उन्‍हें हिमाचल पुत्री कहा जाता है, भगवान श‍िव की कर्मभूम‍ि है, आज भी कड़-कड़ में श‍िव-पार्वती का वास है, इसे देवभूमि कहा जाता है, इसके बारे में आपने इतनी ज्‍यादा तुच्छ बातें की हैं। एक मुख्‍यमंत्री हो कर आपने पूरे राज्‍य को नीचे ग‍िराया है क्‍योंकि आप एक लड़की से नाराज हैं और वो लड़की आपके बेटे की उम्र की है।'

आगे वह कह रहीं हैं, 'चीफ मिन‍िस्‍टर आप मुझसे बहुत नाराज हुए थे जब मुंबई की मैंने पीओके से तुलना की थी और संविधान को बचाने वाले बहुत उछलकर सामने आए थे। लेकिन कल आपने उसी भाषण में भारतवर्ष की तुलना पाकिस्‍तान से की अब वो संविधान को बचाने वाले नहीं आएंगे क्‍योंकि उनके मुंह में कोई पैसे नहीं ढूंस रहा है। जो देशभक्ति की बात करते हैं वो कहते हैं क‍ि हमारे पास न पैसे हैं न कुछ हैं हम तो देशभक्ति की बात करते हैं, लेकिन देशव‍िद्रोह के लिए आपके मुंह में पैसे ढूंसे जाते हैं। एक वर्किंग चीफ मिन‍िस्‍टर ने सरेआम एक लड़की को गाली दी, ये संविधान को बचाने वाले अब कुछ नहीं कहेंगे।' कंगना ने आगे कहा, 'चीफ मिन‍िस्‍टर मैं आपको बताना चाहती हूं, सत्ताएं आती-जाती हैं, आप स‍िर्फ एक सरकारी कर्मचारी हैं, लेकिन जो इंसान एक बार सम्‍मान खो देता है वो उसे नहीं पा सकता।।।'

वैसे हम आपको यह भी बता दें कि बीते दिनों ही उद्धव ठाकरे ने अपने बयान में कहा था क‍ि 'कुछ लोग मुंबई में काम करने आते हैं और फिर शहर का नाम खराब करते हैं। यह एक तरह से 'नमक हरामी' है। एक ऐसी कहानी बनाई गई है, जैसे मुंबई और पूरा महाराष्ट्र एक ड्रग हैवेन है और यहां पर सब ड्रग अडिक्ट हैं।'

दो सींग और टैटू से भरा है इनका शरीर, करवा रखी हैं 453 पियर्सिंग

मप्र उपचुनाव: चुनाव आयोग को सुप्रीम कोर्ट से राहत, MP हाई कोर्ट के आदेश पर लगी रोक

ऋतिक ने ख़रीदा अपने सपनों का घर, कीमत जान आप भी हो जाएंगे हैरान